Priya Prakash Varier New Video Goes Viral on Internet

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

उन्नाव दुष्कर्म मामले के आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर सीबीआइ का शिकंजा कसता जा रहा है। पॉक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार सेंगर की वाई श्रेणी की सुरक्षा वापस होने के बाद प्रशासन ने उनके शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

विधायक के रिवाल्वर, रायफल और बंदूक का लाइसेंस निरस्त करने के लिए पुलिस ने रिपोर्ट तैयार कर संस्तुति के लिए फाइल शुक्रवार को कलक्ट्रेट भेजी। हालांकि, प्रभारी अधिकारी आयुध ने पुलिस की रिपोर्ट में कुछ कमियां पाए जाने पर वापस करते हुए सुधार के बाद सोमवार को दोबारा फाइल मांगी है।

सूत्रों के मुताबिक पुलिस ने किशोरी के पिता की हत्या में नामित विधायक के भाई अतुल सिंह के भी शस्त्र लाइसेंस निरस्त करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक जिन चार मुकदमों की जांच सीबीआइ कर रही, उनमें विधायक के करीबी आरोपियों के भी शस्त्र लाइसेंस निरस्त किए जाएंगे।

सोमवार को दर्ज होंगे छोटी बहनों के बयान

उन्नाव भाजपा विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली किशोरी के पिता की हत्या के मामले की जांच कर रही सीबीआइ ने दूसरे दिन किशोरी की बड़ी बहन के बयान लखनऊ सीबीआइ कोर्ट में दर्ज कराए। इसके लिए कड़ी सुरक्षा में किशोरी के चाचा और बड़ी बहन को लखनऊ ले जाया गया। बयान कराने के बाद दोनों को वापस नहर निरीक्षण भवन पहुंचाया गया। दो छोटी बहनों के बयान सोमवार को दर्ज होंगे।

एक महीने से लापता टिंकू के मिलने के बाद लखनऊ में लंबी पूछताछ कर सीबीआइ ने उसे पिता के साथ घर भेज दिया। सीबीआइ ने उसे बिना सूचना जिले से बाहर न जाने और मोबाइल से संपर्क में रहने के साथ ही बुलावे पर आने की हिदायत दी है।

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement