Home Up News Unnao Rape Case Accused BJP MLA Kuldeep Singh Sengar Shifted From Unnao Jail To Sitapur Jail

पाकिस्तान ने ईद की छुट्टियों के दौरान भारतीय फिल्मों के प्रसारण पर रोक लगाई

मुजफ्फरनगरः दूध पिलाती मां और बेटी को सांप ने काटा, दोनों की मौत

कर्नाटकः विधानसभा पहुंचे प्रोटेम स्पीकर

कर्नाटकः पुलिस कमिश्नर भी विधानसभा पहुंचे, अंदर भारी सुरक्षा व्यवस्था

कनाडाः भारतीय रेस्तरां में धमाका, CCTV फुटेज में दिखे 2 संदिग्ध

आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर को शिफ्ट किया गया सीतापुर जेल

UP | Last Updated : May 08, 2018 11:42 AM IST

Unnao Rape Case Accused BJP MLA Kuldeep Singh Sengar Shifted from Unnao Jail to Sitapur Jail


दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

उन्नाव दुष्‍कर्म मामले में आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को उन्नाव जेल से सीतापुर जेल में शिफ्ट कर दिया गया है। पीड़िता की तरफ से बीजेपी विधायक को उन्नाव जेल से शिफ्ट करने के लिए हाईकोर्ट में भी अपील दायर की थी। कुलदीप सिंह सेंगर भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सीतापुर जेल ले जाया गया है।

पीड़िता ने हाईकोर्ट में अपील की थी कि आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से उसकी और उसके परिवार को खतरा है। वह उन्नाव में रहकर इस केस को भी प्रभावित कर सकता है। ऐसे में उसे उन्‍नाव जेल से यूपी के बाहर शिफ्ट किया जाए। आरोप है कि कुछ जेल अधिकारी भी कुलदीप सिंह सेंगर के रिश्‍तेदार हैं।

इस केस की जांच कर रही सीबीआइ ने बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर और उसकी सहयोगी शशि सिंह की रिमांड अवधि खत्म होने के बाद उन्नाव जेल भेज दिया था। पीड़िता के पिता की पीट-पीटकर हत्या किए जाने के मामले में कुलदीप के भाई अतुल सिंह सेंगर सहित पांच आरोपी पहले से ही जेल में हैं।

पुलिस ने बताया कि सभी आरोपियों को उन्नाव जेल में अलग-अलग बैरक में रखा गया है। जेल प्रशासन ने इन आरोपियों की सुरक्षा के लिए अलग से इंतजाम किए हैं। इसके साथ ही उनसे मिलने वालों को आईडी देखकर ही एंट्री दी जा रही है। पूरी बैरक और आस-पास के इलाके को सीसीटीवी की निगरानी में रखा गया है।

क्‍या है मामला?

उन्‍नाव गैंगरेप पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ चार जून 2017 को बीजेपी विधायक कुलदीप सेंगर और उनके साथियों ने गैंगरेप था। उसने बीजेपी विधायक से रेप का विरोध किया, तो उसने परिवार वालों को मारने की धमकी दी। जब वो थाने में गई तो एफआइआर नहीं लिखी गई। इसके बाद तहरीर बदल दी गई। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने लखनऊ गई।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...