Actress katrina Kaif and Mouni Roy Visited Durga Puja Pandal

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

बुधवार को बाबरी मस्जिद विध्वंस की 25वीं वर्षगांठ से मनाई जाएगी। इससे पहले केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा, राम मंदिर हमारी अस्था का विषय है। राम मंदिर बनना चाहिए और यह बात कोर्ट ने भी कही है कि वहां पर राम मंदिर है, लेकिन जमीन किसकी है यह फैसला होना है। सभी साक्ष्य कोर्ट में पेश हो रहे हैं।

 

 

छह दिसंबर की घटना के बारे में उमा भारती ने कहा, छह दिसंबर को कोई क्रिकेट खेल नहीं हुआ था। मेरा कुछ बोलना कोर्ट की अवमानना होगी। मैं पांच दिन पहले से ही अयोध्या में मौजूद थी। एक दिसंबर को मैं वहां पहुंच गई थी और सात दिसंबर की सुबह तक मैं वहां मौजूद थी। जो कुछ हुआ था खुल्लम खुल्ला हुआ था। मैं तो इस अभियान के साथ कब से जुड़ी हुई थी। 1985 से इस मुद्दे के साथ जुड़ी हुई थी। उन्‍होंने कहा, एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते छह दिसंबर पर मैं कोई स्टेटमेंट नहीं दूंगी।

 

उमा भारती ने राम मंदिर के बारे में कहा, इस देश में यह एक ऐसा मामला है, जिसको समाधान की तरफ ले ही जाना है। समाधान के दो ही रास्ते हैं या तो आपसी बातचीत से हो, या फिर जो सुप्रीम कोर्ट का फैसला हो उसको मान लिया जाए, क्योंकि यह जो मामला है इस बात का नहीं है कि वहां पर राम पैदा हुए थे कि नहीं, सारी लड़ाई इस बात की है कि वहां राम जन्म भूमि थी।

 

यही नहीं राहुल गांधी के मंदिर जाने पर उमा भारती ने कहा, हिंदू तो सॉफ्ट होता है, जो 33 करोड़ देवी-देवताओं को मानता हो, पत्थर, जीव जंतु, नदियों और पहाड़ों का सम्मान करता हो। जहां तक राहुल के मंदिर जाने की बात है तो ये चर्चा का विषय इसलिए बना कि वह पहले नहीं जा रहे थे, अभी जा रहे हैं। उनके जनेऊ पहनने वाली बात तो कांग्रेस के लोगों ने कही है। हमारे यहां तो बहुत से हिंदू जनेऊ को नहीं पहनते हैं। यह तो पहला बयान कांग्रेस के नेताओं की तरफ से आया है।

 

 

राहुल गांधी की रैली में भीड़ आने पर उमा भारती ने कहा, यूपी में भी अखिलेश और राहुल की रैली में बहुत भीड़ आई थी, लेकिन क्या हुआ? इसलिए भीड़ से कोई अंदाजा नहीं लग सकता। राहुल गांधी के अध्यक्ष बनने पर मुझे कुछ नहीं कहना। यह उनकी पार्टी को करना है।

 

उन्‍होंने कहा, एक विचारधारा होना चाहिए। कांग्रेस के पास विचारधारा नहीं बची है इसलिए हल्की-फुल्की बातें करनी शुरू कर दी है। मोदी जी की व्यक्तिगत आलोचना करना उनके विरोध की राजनीति को देश स्वीकार नहीं करेगा। कांग्रेस को अपनी विचारधारा बनानी चाहिए थी। देश के लोग यह जानना चाहते हैं कि कांग्रेस हमें यह बताए कि बीजेपी से ज्यादा बेहतर भारत कैसे बना सकते हैं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement