Watch Making of Dilbar Song From Satyameva Jayate

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

विधानभवन, राजभवन और 1090 चौराहे की सड़कों पर छह जनवरी की रात आलू फेंककर हड़कंप मचाने वाले आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार करने का दावा किया है। यह कन्‍नौज के सपा कार्यकर्ता बताए जा रहे हैं। घटना के बाद जहां विपक्ष ने भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा था तो वहीं भाजपा ने इसे वि‍पक्ष की करतूत बताया था। मामले पर शनिवार को एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि दो नेताओं की गिरफ्तारी के बाद अन्‍य की पड़ताल की जा रही है। 

 

 

एसएसपी ने बताया कि बीते दिनों राजभवन, विधानसभा और मुख्यमंत्री आवास के आसपास आलू फेंकने की साजिश रची गई। इसके खुलासे के लिए कई टीमें लगाई गईं थीं। इसी आधार पर जिस पिकअप से आलू लाया गया था उसे और चालक संतोष को गिरफ्तार किया गया है। पूरे मामले की रिपोर्ट शासन को भेजी गई है। इसके बाद जैसा आदेश मिलेगा उसी आधार पर एफआइआर सहित अन्‍य कानूनी कार्रवाई होगी। जांच के दौरान हजरतगंज पुलिस आलू फेंकने वाले लोडर चालक संतोष पाल और नेता अंकित सिंह को गिरफ्तार किया। सीसीटीवी फुटेज में लोडर के आसपास इन नेताओं के होने की पुष्टि हो रही है।

 

 

पूछताछ के दौरान चालक ने कई नाम बताए फिर उनकी कॉल डिटेल निकलवा कर जांच शुरू की गई। इसके बाद इन नेताओं के मोबाइल फोन की कॉल डिटेल से अन्‍य की जानकारी की गई। मामले में अन्‍य आरोपियों की पड़ताल की जा रही है। हजरतगंज इंस्‍पेक्‍टर आनंद कुमार शाही ने बताया कि शीवेंद्र सिंह, संदीप, दीपेंद्र सिंह, संजू कटियार, प्रदीप सिंह और जय कुमार ति‍वारी ने घटना की साजिश रची थी।

 

 

शीवेंद्र-संजू ने पुरानी ठठिया स्थित सतीश जाटव के कोल्‍ड स्‍टोर से आलू खरीदा संदीप ने आलू लाने के लिए वाहनों की व्‍यवस्‍था की। दीपेंद्र, प्रदीप, जय कुमार ने वाहनों में आलू रखवाया था। पूछताछ के दौरान पता चला है कि जहां शीवेंद्र सिंह ने कन्‍नौज से नगर पंचायत अध्‍यक्ष का चुनाव भी लडे थे तो वहीं संजू कटियार वर्तमान जिला पंचायत अध्‍यक्ष कन्‍नौज के पति हैं।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll