Ayushman Khurrana Wants To Work in Kishore Kumar Biopic

दि राइजिंग न्‍यूज

इटावा।

 

योगी आदित्‍यना‍थ के पसंदीदा भगवा रंग के खुमार में प्रदेश में कई सरकारी इमारतें रंग गईं। ऐसे में पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव के जिले में भी भगवा रंग दिखाई देने लगा है। इटावा के कई गांवों में टॉयलेट को केसरिया रंग में रंगा गया है। जनपद के बसरेहर ब्लॉक के अमृतपुर गांव में प्रधानमंत्री स्वच्छता अभियान के तहत जितने भी शौचालय बने हैं उन सभी को भगवा रंग में रंगा गया है।

 

 

करीब पांच हजार की आबादी वाले इस गांव में प्रधानमंत्री स्वच्छता अभियान के तहत 350 शौचालय बनाए जाने हैं। जिसमें 100 शौचालय बनकर तैयार हो गए हैं।

 

 

मालूम हो कि गांव के लोगों की विशेष मांग पर इन सभी शौचालयों को भगवा रंग से रंगा गया है। यहां के ग्राम प्रधान वेदपाल सिंह नायक का कहना है कि जब हमारे पीएम और सीएम को भगवा रंग पसंद है तो उनके द्वारा दिये गए शौचालयों का भी रंग भगवा मिलना चाहिए।

अभी जनपद में 36,646 शौचालय बन चुके हैं। आगे लगभग 90 हजार शौचालय पीएम स्वच्छता योजना के तहत बनाये जाने हैं।

 

 

प्रशासन ने भी भगवा रंग से शौचालयों को रंगने को हरी झंडी ग्राम प्रधानों को दे दी है। जिला पचायत राज अधिकारी ने बताया, भगवा रंग अच्छा लगता है। ग्रामीण जिस रंग में अपने शौचालयों को रंगना चाहते हैं रंगे, उसमें प्रशासन को कोई दिक्कत नहीं है।

 

 

अखिलेश यादव ने कसा तंज

वहीं सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को पार्टी कार्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए योगी सरकार पर हमला किया था। अखिलेश यादव यूपी के भगवामय हो जाने पर कहा, सरकार टॉयलेट को भगवा रंग में रंगवाकर भगवान का अपमान कर रही है। बीजेपी ने भगवान को भी नहीं बख्शा है। भगवा वाले बाथरूम में कोई जाएगा तो किसका अपमान होगा। उसका नाम भी बदलकर इज्जतघर हो गया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement