Home Up News Taj Mahal In The Heritage Calendar Of Yogi Government

जम्मू-कश्मीर: पाकिस्तान सीजफायर उल्लंघन में एक और नागरिक की मौत

हम शहीदों के परिवार के लिए कुछ भी करें वो हमेशा कम ही रहेगा: राजनाथ सिंह

केंद्र सरकार लोकतंत्र की हत्या करने में जुटी है: संजय सिंह

ममता ने PM से की विवेकानंद- बोस जन्मदिवस को नेशनल हॉलिडे घोषित करने की मांग

J&K में हमारी सेना, पैरा और पुलिस समन्वय से कर रही आतंकियों का सफाया: राजनाथ

प्रदेश के हेरिटेज कैलेंडर में शामिल हुआ ताजमहल

UP | 18-Oct-2017 13:50:06 | Posted by - Admin
  • टूरिज्म की बुकलेट में नहीं था नाम
   
Taj Mahal in the Heritage Calendar Of Yogi Government

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।  

 

यूपी की पयर्टन मंत्रालय से जारी बुकलेट में बेमिसाल ताजमहल को जगह नहीं दी गई। इसके बाद अब 2018 के लिए योगी सरकार ने हेरिटेज कैलेंडर धनतेरस के मौके पर जारी किया। खास बात ये है कि इसमें ताजमहल को जुलाई महीने के पेज पर छापा गया है। इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की फोटो है। कैलेंडर पर बीजेपी का स्लोगन- “सबका साथ, सबका विकास” लिखा है।

 

 

 

इस बार के हेरिटेज कैलेंडर में गोरखपुर के गोरखनाथ मंदिर को भी शामिल किया गया है। बनारस के काशी विश्वनाथ मंदिर, विंध्याचल, मथुरा के बरसाने की होली, कृष्ण जन्मस्थली, झांसी का किला और सारनाथ को भी इसमें जगह मिली है।

अयोध्या की राम की पैड़ी, इलाहाबाद का त्रिवेणी संगम और पीलीभीत का गुरुद्वारा भी इस कैलेंडर भी शामिल है।

 

वहीं मंगलवार को ताजमहल पर जारी तकरार के बीच योगी आदित्यनाथ ने कहा, ताज महल भारत के मजदूरों के खून और पसीने से बना है। ताजमहल को किसने बनाया और बनाने की वजह क्या थी, ये मायने नहीं रखता। ताजमहल हमारे लिए बहुत अहमियत रखता है, खासकर टूरिस्ट के लिए। हमारी प्राथमिकता यही है कि वहां सुविधाएं हों और टूरिस्ट सुरक्षित रहें।

 

इससे पहले रविवार को बीजेपी एमएलए संगीत सोम ने कहा था, "कुछ लोगों को दर्द हुआ जब ताजमहल का नाम ऐतिहासिक स्थलों में से निकाल दिया गया। ये कैसा इतिहास, किस काम का इतिहास जिसमें अपने पिता को ही कैद कर डाला था।"

 

क्या है विवाद?

हाल ही में यूपी की पयर्टन मंत्रालय से जारी बुकलेट में कुशीनगर, गोरखनाथ मंदिर जैसी कई स्थानों को शामिल किया गया, लेकिन ताजमहल का जिक्र नहीं किया गया। इस पर वि‍वाद शुरू हो गया।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news