Home Up News Supreme Court Gives Order To Continue Sand Mining E-Tendering System In UP

करणी सेना का दावा, संजय लीला भंसाली ने "पद्मावत" देखने का भेजा न्यौता

MLA ने एक रुपया भी सैलरी नहीं ली: मनीष सिसोदिया

पुंछ: पाक सीजफायर उल्लंघन के चलते बंद किए गए 120 स्कूल

बिना सबूत EC ने कैसे दिया MLAs को अयोग्य घोषित करने का सुझाव: सिसोदिया

अब CJI जस्टिस दीपक मिश्रा खुद करेंगे लोया मौत केस की सुनवाई

सुप्रीम कोर्ट से प्रदेश सरकार को बड़ी राहत!

UP | 08-Nov-2017 13:45:37 | Posted by - Admin
  • बालू खनन में जारी रहेगा ई-टेंडरिंग सिस्टम
   
Supreme Court Gives Order To Continue Sand Mining E-Tendering System in UP

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।  

 

सुप्रीम कोर्ट ने उत्‍तर प्रदेश सरकार को बड़ी राहत दी है। कोर्ट ने बालू खनन के लिए अपनाई जाने वाली ई-टेंडरिंग सिस्टम को जारी रखने की सशर्त इजाजत दे दी है। कोर्ट ने कहा कि इस मामले में ई-टेंडरिंग का भविष्य एनजीटी के आखिरी फैसले पर निर्भर करेगा।

 

 

यूपी में योगी सरकार के आने के बाद खनन के पुराने पट्टे खारिज कर नए सिरे से पट्टा देने का फैसला लिया गया था। एक अक्टूबर से नए ई-टेंडरिंग सिस्टम से खनन के पट्टे मिलने वाले थे। उससे पहले एनजीटी ने 22 सितंबर को इस पर रोक लगा दी। इसके बाद यूपी सरकार ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया।

 

 

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में यूपी सरकार ने कहा कि बालू खनन के लिए अपनाई गई ई-टेंडरिंग की प्रक्रिया पारदर्शी है। इसके अलावा सरकार की ओर से खनन के लिए तय किए गए मानक भी पारदर्शी बनाए गए हैं। इसके बावजूद एनजीटी के अंतरिम आदेश से पूरी प्रक्रिया रुक गई है, लिहाजा इसे रद्द किया जाए। यूपी सरकार के तर्क सुनने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने ई-टेंडरिंग प्रक्रिया को जारी रखने का आदेश जारी कर दिया।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news