Home Up News Sri Sri Ravishankar Meets To CM Yogi Adityanath Over Ram Mandir Issue

चेन्नई: पत्रकारों ने बीजेपी कार्यालय के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

मुंबई: ब्रीच कैंडी अस्पताल के पास एक दुकान में लगी आग

कर्नाटक के गृहमंत्री रामालिंगा रेड्डी ने किया नामांकन दाखिल

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने हथियारों के साथ 3 लोगों को किया गिरफ्तार

11.71 अंक गिरकर 34415 पर बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी 10564 पर बंद

मिशन “राम मंदिर”: योगी के बाद कटियार-चक्रपाणि से मिले श्री श्री

UP | 15-Nov-2017 10:20:23 | Posted by - Admin
  • कल जाएंगे अयोध्या
   
Sri Sri Ravishankar Meets to CM Yogi Adityanath over Ram Mandir Issue

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

अयोध्‍या में राम मंदिर के विवाद को लेकर मध्यस्थता कर रहे आध्यात्मिक गुरू श्री श्री रविशंकर बुधवार को सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने लखनऊ पहुंचे हैं। दोनों लोगों के बीच करीब आधे घंटे तक सीएम हाउस में मुलाकात हुई।

 

सीएम योगी से मिलने के बाद श्री श्री ने हिंदू महासभा के चक्रपाणी, बीजेपी नेता विनय कटियार और दिगंबर अखाड़ा के महंत सुरेश दास से मुलाकात की।

 

 

 

इसके बाद श्री श्री ने लखनऊ के डालीगंज में प्रेस कांफ्रेंस कर अपनी बात रखी। उन्‍होंने कहा कि हमें सभी का साथ मिला है तभी हम मध्‍यस्‍थता कर रहे हैं।

 

 

श्री श्री रविशंकर अभी तक कई इस मुद्दे को लेकर कई लोगों से बात कर चुके हैं। सीएम योगी से मिलने के बाद गुरुवार को रविशंकर अयोध्या भी जाएंगे।

 

 

इसी बीच शिया वक्फ बोर्ड में अलग सुर सुनाई दिए हैं। शिया वक्फ बोर्ड के प्रवक्ता यसूब अब्बास ने कहा है कि वह इस मुद्दे पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल बोर्ड लॉ के साथ हैं। यानी इनके विचार शिया वक्फ बोर्ड के प्रमुख वसीम रिजवी के रुख से बिल्कुल अलग हैं।

 

 

यह चार मुद्दे होंगे अहम-

  • बाबरी मस्जिद और राम मंदिर के मुद्दों पर अलग-अलग पक्षों से बात करने का क्या रोडमैप होगा?
  • हल निकालने के लिए दोनों तरफ से किसको शामिल किया जाएगा?
  • बातचीत के बाद राज्य और केंद्र सरकार का क्या रोल रहेगा?
  • आखिरी मसौदा किस तरह तैयार होगा और कोर्ट में किस रूप में पेश होगा?

 

 

श्री श्री रविशंकर से मुलाकात को लेकर फिरंगी महली के खालिद रश्दी फिरंगी का कहना है कि वह एक बड़े आध्यात्मिक गुरू हैं, हम उनका सम्मान करते हैं। अगर उनके पास इस मुद्दे का कोई हल है तो उन्हें सुप्रीम कोर्ट के सामने इसका हल रखना चाहिए, लेकिन अगर इसमें कोई राजनीतिक हस्तक्षेप होता है तो इसका हल निकलना मुश्किल हो जाएगा। खालिद रश्दी ने कहा कि मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड कोर्ट के फैसले के आधार पर काम करेगा, हमें किसी तरह का कोई पत्र नहीं मिला है।

 

 

वहीं एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने राम मंदिर मुद्दे पर श्री श्री रविशंकर पर वार किया है। उन्होंने कहा कि श्री श्री रविशंकर झूठ बोल रहे हैं, वह मुस्लिम पर्सनल लॉ से नहीं मिले हैं। ओवैसी ने कहा कि ऐसा करके उन्हें नोबेल पुरस्कार नहीं मिलेगा।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news