Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्‍यूज

मथुरा।

 

अयोध्‍या में राम मंदिर निमार्ण में मध्‍यस्‍थता के सवाल पर आध्यात्मिक संत श्री श्री रविशंकर ने कहा कि कहीं कोई उम्मीद दिखाई दे रही है, तभी वे इस काम को आगे बढ़ाने की शुरुआत कर रहे हैं। श्रीश्री मंगलवार को मथुरा-वृंदावन परिक्रमा मार्ग स्थित लता आश्रम में आयोजित एक निजी समारोह में शामिल होने पहुंचे थे।

 

 

पत्रकारों के साथ बातचीत में श्रीश्री ने राममंदिर निर्माण के लिए मध्यस्थता के एलान का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा किए गए स्वागत पर खुशी जताते हुए कहा कि वे उनसे मुलाकात करने जा रहे हैं। विपक्षी दलों द्वारा राममंदिर को लेकर किए जा रहे उनके प्रयासों पर उठ रहे सवालों पर कहा कि आज तक जहां भी हम गए वहां स्थिति बिगड़ी नहीं है।

वार्ता से राममंदिर निर्माण की संभावना पर कहा कि अभी कुछ कहा नहीं जा सकता, लेकिन कुछ उम्मीद है, तभी आगे बढ़ रहे हैं। अयोध्या में दोनों पक्षों से वार्ता होगी। यहां से श्रीश्री मुख्यमंत्री योगी से मुलाकात के लिए रवाना होंगे।

 

 

वहीं रामकथा वाचक मोरारी बापू ने मथुरा में राममंदिर निर्माण के लिए आध्यात्मिक संत श्रीश्री रविशंकर की मध्यस्थता के सवाल पर कहा कि मैं उनके शुभ को प्रणाम करता हूं। श्रीश्री अगर मध्यस्थता कर रहे हैं तो निश्चित ही कहीं न कहीं कोई शुभ समाचार की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि मध्यस्थता के लिए श्रीश्री के आने से मंदिर निर्माण की उम्मीद जागने लगी है।

 

 

मंगलवार को यहां पत्रकारों से रूबरू मोरारी बापू ने मोदी सरकार पर दिए अपने बयान पर कायम रहते हुए कहा कि जब तीन साल में केंद्र सरकार के किसी भी मंत्री अथवा अफसर का भ्रष्टाचार उजागर नहीं हुआ तो उनकी सराहना करनी जरूरी है। ऐसी सरकार जो राष्ट्रहित में फैसले ले रही है, उसकी सराहना हर किसी को करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि नरेंद्र मोदी की राष्ट्रभक्ति पर कोई अंगुली नहीं उठा सकता।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement