Uri Team Donate on One Crore Rupees to Pulwama Terrorist Attack Martyr Families

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

गुरुवार को विधानसभा सदन की कार्यवाही के दौरान सपा नेता राम गोविंद चौधरी की तबीयत बिगड़ गई। आनन-फानन में पार्टी सदस्य इन्हें सिविल अस्‍पताल लेकर पहुंचे। यहां से इन्हें लोहिया रेफर कर दिया गया है।

बता दें, गुरुवार को विधानसभा में बजट सत्र पर चर्चा चल रही थी। इसी दौरन ही राम गोविंद चौधरी की तबीयत खराब हुई।

 

 

कौन हैं राम गोविंद चौधरी?

समाजवादी पार्टी के विधायक राम गोविंद चौधरी को अखिलेश यादव ने यूपी विधानसभा में विपक्ष का नेता नियुक्त किया था। इन्हें अखिलेश यादव ने आजम खान और शिवपाल यादव की अनदेखी करते हुए विपक्ष का नेता नियुक्त किया था।

1977 में पहली बार चिलकहर विधानसभा सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे थे। मौजूदा में बलिया जिले के बंसदीह सीट से जीतकर आए हैं।

जयप्रकाश नारायण और चंद्रशेखर के साथ इनके पास काम करने का अनुभव है। आपात काल में राम गोविंद चौधरी 1977 में जेल भी गए थे।

वहीं यूपी सरकार के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने बताया, नेता विपक्ष पूरी तरह से स्वस्थ्य हैं, डॉक्टर ने सभी तरह के टेस्ट किए, जिनकी रिपोर्ट सही आई है। डॉक्टरों का कहना है कि कुछ देर में एक जांच और होनी है, जिसके बाद उनके डिस्चार्ज करने पर निर्णय किया जाएगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement