Home Up News Ram Vilas Vedanti Statement Over Sri Sri Ravi Shankar And Ram Mandir Issue

J-K: बांदीपुरा ऑपरेशन में 1 जवान शहीद

J-K: बांदीपुरा मुठभेड़ में आतंकी लखवी का भांजा ढेर

दयाल सिंह कॉलेज का नाम बदलने पर सिसोदिया बोले, अतीत प्रेम से बीमार है केंद्र

दाऊद की संपत्ति की नीलामी पर कंपनी को कोई एतराज़ नहीं: छोटा शकील

सोनिया गांधी ने 20 नवंबर को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक बुलाई

राम मंदिर मामले में मध्यस्थता करने वाले रविशंकर कौन: वेदांती

UP | 15-Nov-2017 16:50:33 | Posted by - Admin
  • राम मंदिर बना तो ठीक, वरना मस्जिद नहीं बनने देंगे
   
Ram Vilas Vedanti Statement over Sri Sri Ravi Shankar and Ram Mandir Issue

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

राम मंदिर मामले में मध्यस्थता का प्रयास करने वाले आध्यात्मिक गुरु श्री श्री रविशंकर लगातार निशाने पर हैं। इसी कड़ी में अयोध्या आंदोलन से जुड़े रहे बीजेपी के पूर्व सांसद रामविलास वेदांती ने सवाल उठाते हुए कहा कि रविशंकर कौन होते हैं, फैसला करने वाले।

 

 

वेदांती ने कहा- जेल गए हम, लाठियां खाई हमने और अचानक से श्रीश्री रविशंकर आ गए। उन्होंने कहा कि रविशंकर तब कहां थे जब हम संघर्ष कर रहे थे।

 

 

रामविलास वेदांती ने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनेगा तो ठीक है, वरना किसी भी कीमत पर मस्जिद नहीं बनने दिया जाएगा। राम मंदिर के लिए के लिए चाहे जितना बलिदान देना पड़े, हम पीछे नहीं हटेंगे। चाहे इसकी कीमत जान देकर ही क्यों न चुकानी पड़े।

 

 

बता दें कि श्रीश्री रविशंकर ने बुधवार सुबह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। दोनों के बीच करीब आधे घंटे तक सीएम हाउस में बातचीत हुई। श्रीश्री रविशंकर 16 नवंबर को अयोध्या भी जाएंगे।

 

 

सीएम से मुलाकात करने के बाद श्री श्री ने हिंदू महासभा के चक्रपाणी, बीजेपी नेता विनय कटियार और दिगंबर अखाड़ा के महंत सुरेश दास से मुलाकात की।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555



संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...




TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Photo Gallery
गोमती तट पर दीप आरती करती महिलाएं। फोटो- अभय वर्मा



Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news