Home Up News Ram Naik Statement Over The Biggest Idol Of Lord Rama In Ayodhya

राहुल गांधी के इंटरव्यू पर बीजेपी ने चुनाव आयोग से की शिकायत

राजस्थान: भारत-ब्रिटेन की सेना ने बीकानेर में किया संयुक्त युद्धाभ्यास

PM मोदी कल मुंबई में नेवी की पनडुब्बी INS कावेरी को देश को समर्पित करेंगे

पंजाब: STF ने लुधियाना से 3 ड्रग तस्करों को किया गिरफ्तार

पटना: मगध महिला कॉलेज में जींस, मोबाइल और पटियाला ड्रेस पर बैन

राज्‍यपाल का बड़ा बयान, मूर्ति का बनना तय नहीं!  

UP | 11-Oct-2017 11:10:36 | Posted by - Admin
  • अयोध्‍या में श्रीराम की प्रतिमा बनने को लेकर आया बयान
   
Ram Naik Statement over the Biggest Idol of Lord Rama in Ayodhya

दि राइजिंग न्‍यूज

वाराणसी।

 

अयोध्या में भगवान श्रीराम की 100 फीट की सबसे बड़ी मूर्ति बनने की चर्चा इस समय तेजी से चल रही है। वहीं इस बात पर राज्‍यपाल राम नाइक ने कहा, ''सोमवार को राज्य सरकार ने एक प्रेजेंटेशन हमें दिखाया है, जिसमें ऐसी किसी मूर्ति की बात नहीं थी। हालांकि, अयोध्या में जो भी जाता है उसके मन में राम की मूर्ति देखने की इच्छा होती है। इसमें क्या किया जाए, इस प्रकार की चर्चा चल रही है और इसका निर्णय सब बातों को देखने के बाद राज्य सरकार करेगी।'' बता दें, राम नाइक मंगलवार को काशी विद्यापीठ के 39वें दीक्षांत समारोह में पहुंचे थे।

 

 

इस बार दीक्षांत समारोह को अलग रूप देने के लिए संसद भवन जैसा पंडाल बनाया गया था, जो मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा। इस पंडाल के निर्माण में 10 हजार मीटर कपड़े का इस्तेमाल किया गया है। वहीं, विश्वविद्यालय के कुलपति डॉं पृथ्वीश नाग ने बताया कि इस बार हमने दीक्षांत समारोह को खास बनाने के लिए संसद भवन की तर्ज पर पंडाल बनवाया है। पंडाल में सभी पूर्व कुलपतियों के तैलचित्र टंगवाए गए हैं।

 

 

150 मजदूरों ने बनाया संसद

पंडाल बनाने वाले श्रेष्ठ अग्रवाल ने बताया, 150 मजदूरों ने मिलकर 15 दिन में इस पंडाल का निर्माण किया। इसमें दो हजार लोगों के बैठने की क्षमता है। पंडाल को वाटर प्रुफ कपड़े से बनाया गया है।

 

 

बीएचयू जैसी परिस्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए

वहीं, राज्यपाल ने हाल ही में हुए बीएचयू बवाल पर कहा कि बीएचयू और अलीगढ़ दोनों सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी हैं और मेरा वास्ता राज्य से है, लेकिन इस प्रकार की परिस्तिथि उत्पन्न नहीं होनी चाहिए थी।

 

 

59 छात्र-छात्राओं को मिला गोल्ड मेडल

वहीं, राज्यपाल ने दीक्षांत समारोह में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले 59 छात्रों को गोल्ड मेडल दिया, जिसमें 45 छात्राएं और 14 छात्र शामिल थे। जबकि, उपाधि पाने वाले कुल छात्रों में से स्नातक के 85,144 छात्र (37,898 छात्र और 42,246 छात्राएं) और स्नातकोत्तर के 14,749 छात्र (4,677 छात्र और 10,072 छात्राएं) शामिल थे।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news