Home Up News Ram Naik Statement Over The Biggest Idol Of Lord Rama In Ayodhya

मथुरा: कोसी कलां में ट्रक और बाइक की भिडंत से 3 लोगों की मौत

इराक में गायब भारतीयों के डीएनए सेम्पल जुटाए जाएंगे

पंजाब: संगरूर के पटियाला रोड पर कई वाहनों के आपस में टकराने से 3 लोगों की मौत

कर्नाटक: बीजेपी ने सीएम सिद्धरमैया पर 418 करोड़ के कोयला घोटाले का आरोप लगाया

अमेरिकी विदेश मंत्री टिलरसन 24 अक्टूबर को भारत दौरे पर आएंगे

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood
   

राज्‍यपाल का बड़ा बयान, मूर्ति का बनना तय नहीं!  

UP | 11-Oct-2017 11:10:36
  • अयोध्‍या में श्रीराम की प्रतिमा बनने को लेकर आया बयान
Ram Naik Statement over the Biggest Idol of Lord Rama in Ayodhya

दि राइजिंग न्‍यूज

वाराणसी।

 

अयोध्या में भगवान श्रीराम की 100 फीट की सबसे बड़ी मूर्ति बनने की चर्चा इस समय तेजी से चल रही है। वहीं इस बात पर राज्‍यपाल राम नाइक ने कहा, ''सोमवार को राज्य सरकार ने एक प्रेजेंटेशन हमें दिखाया है, जिसमें ऐसी किसी मूर्ति की बात नहीं थी। हालांकि, अयोध्या में जो भी जाता है उसके मन में राम की मूर्ति देखने की इच्छा होती है। इसमें क्या किया जाए, इस प्रकार की चर्चा चल रही है और इसका निर्णय सब बातों को देखने के बाद राज्य सरकार करेगी।'' बता दें, राम नाइक मंगलवार को काशी विद्यापीठ के 39वें दीक्षांत समारोह में पहुंचे थे।

 

 

इस बार दीक्षांत समारोह को अलग रूप देने के लिए संसद भवन जैसा पंडाल बनाया गया था, जो मुख्य आकर्षण का केंद्र रहा। इस पंडाल के निर्माण में 10 हजार मीटर कपड़े का इस्तेमाल किया गया है। वहीं, विश्वविद्यालय के कुलपति डॉं पृथ्वीश नाग ने बताया कि इस बार हमने दीक्षांत समारोह को खास बनाने के लिए संसद भवन की तर्ज पर पंडाल बनवाया है। पंडाल में सभी पूर्व कुलपतियों के तैलचित्र टंगवाए गए हैं।

 

 

150 मजदूरों ने बनाया संसद

पंडाल बनाने वाले श्रेष्ठ अग्रवाल ने बताया, 150 मजदूरों ने मिलकर 15 दिन में इस पंडाल का निर्माण किया। इसमें दो हजार लोगों के बैठने की क्षमता है। पंडाल को वाटर प्रुफ कपड़े से बनाया गया है।

 

 

बीएचयू जैसी परिस्थिति उत्पन्न नहीं होनी चाहिए

वहीं, राज्यपाल ने हाल ही में हुए बीएचयू बवाल पर कहा कि बीएचयू और अलीगढ़ दोनों सेन्ट्रल यूनिवर्सिटी हैं और मेरा वास्ता राज्य से है, लेकिन इस प्रकार की परिस्तिथि उत्पन्न नहीं होनी चाहिए थी।

 

 

59 छात्र-छात्राओं को मिला गोल्ड मेडल

वहीं, राज्यपाल ने दीक्षांत समारोह में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले 59 छात्रों को गोल्ड मेडल दिया, जिसमें 45 छात्राएं और 14 छात्र शामिल थे। जबकि, उपाधि पाने वाले कुल छात्रों में से स्नातक के 85,144 छात्र (37,898 छात्र और 42,246 छात्राएं) और स्नातकोत्तर के 14,749 छात्र (4,677 छात्र और 10,072 छात्राएं) शामिल थे।

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555


संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...





What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


Photo Gallery
अब कब आओगे मंत्री जी । फोटो- अभय वर्मा

Flicker News



Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news


उत्तर प्रदेश

खेल-कूद


rising news video

खबर आपके शहर की