Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भले ही स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर सभी मदरसों में समारोह मनाना अनिवार्य कर दिया है, लेकिन उसका अनुपालन मुश्किल होगा। जगह-जगह पर इसका विरोध भी हो रहा है। कई जगहों पर शहर के काजी स्वतंत्रता दिवस समारोह को तो मनाने पर राजी हैं, लेकिन वहां पर राष्ट्रगान नहीं होगा।

 

 

यूपी सरकार की ओर से स्वतंत्रता दिवस (15 अगस्त) पर मदरसों के लिए जारी राष्ट्रगीत गाने के फरमान का विरोध किया जा रहा है। मेरठ व बरेली के मदरसों में पढऩे और पढ़ाने वालों का कहना है यह मज़हब के खिलाफ है। इसी कारण हम इसे नहीं गाएंगे। बरेली के काजी ने मदरसों से कहा है कि- स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाएं तो सही लेकिन राष्ट्रगान गाए बगैर।

 

यह भी पढ़ें: आपके पेट्स तो ऐसे नहीं हैं.....

 

उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद ने 11 अगस्त को जारी सर्कुलर में कहा है कि- सभी मदरसे 15 अगस्त को तिरंगा फहराएं और राष्ट्रगान गाएं। अब खबर है कि बरेली व मेरठ के काजी ने शहर के मदरसों से कहा है कि वे स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाएं तो सही लेकिन राष्ट्रगान गाए बगैर।

 

 

काजी ने कहा है कि यह योगी सरकार का तुगलकी फरमान है। राष्ट्रगान में कुछ शब्द ऐसे हैं जो अल्लाह के प्रति गैरवफादारी प्रदर्शित करता है। हम निश्चित तौर पर आजादी का समारोह मनाएंगे लेकिन मदरसों में हम राष्ट्रगान नहीं गाएंगे। जमात रजा-ए-मुस्तफा के प्रवक्ता नासिर कुरेशी ने इस बाबत सभी जगह पर राष्ट्रगान नहीं गाने का फरमान भी सुनाया है।

 

यह भी पढ़ें: सपने में दुल्हन देखने का असल जीवन में असर ...

 

यूपी मदरसा शिक्षा परिषद ने इस बाबत सर्कुलर जारी किया है। जिसमें कहा गया है कि कार्यक्रमों के वीडियो भी बनाए जाएं फोटो भी ली जाएं।

इस सर्कुलर के मुताबिक, सुबह आठ बजे तिरंगा फहराए जाने और राष्ट्रगान गाने के निर्देश दिए गए हैं। छात्र-छात्राओं को राष्ट्रवादी गीत गाने और 15 अगस्त के इतिहास पर विचार विमर्श के निर्देश दिए गए हैं।

 

 

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश सरकार ने सभी मदरसों को निर्देश दिया है कि वे स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन करें और इसकी वीडियोग्राफी करवाएं। प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी ने कहा था कि- उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में स्थित सभी मदरसों में आगामी स्वतंत्रता दिवस पर तिरंगा फहराकर राष्ट्रगान गाने और सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिये हैं।

 

 यह भी पढ़ें: देखने में सामान्‍य, मगर बहुत बड़ी बात बता देते हैं ये संकेत

 

चौधरी से संबद्ध राज्य मंत्री बल्देव सिंह औलख ने आदेश का पालन नहीं करने वालों पर कार्रवाई के लिए चेताया है। चौधरी ने बताया कि- देश के तमाम नागरिक होली, दीपावली, ईद और लोहड़ी के त्यौहार मनाते हैं। वहीं स्वतंत्रता दिवस और गणतंत्र दिवस को पूरा देश मनाता है। मदरसों को इससे अलग नहीं किया जाना चाहिये।

 

 

औलख ने चेताया कि हमने सभी कार्यक्रमों की वीडियोग्राफी कराने को कहा है। हम कभी भी जांच कर सकते हैं कि किस मदरसे ने समारोह मनाया और किसने नहीं। यदि कोई मदरसा यह आदेश नहीं मानता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll