Jacqueline Fernandez is Upset From Salman Khan

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

शुक्रवार को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में “एक जिला-एक उत्पाद” समिट का शुभारंभ किया। इस मौके पर उन्होंने 75 जिलों के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी और बटन दबाकर व्यापारियों को 1006 करोड़ रुपये का ऋण दिया। जिसमें कानपुर के व्यापारी अतुल शर्मा को लेदर शूज के बिजनेस के लिए 35 लाख रुपये लोन मिला। लखनऊ के मोहित वर्मा को चिकनकारी के लिए 10 लाख रुपये का लोन मिला। उन्होंने कार्यक्रम में कॉफी टेबल बुक का विमोचन किया और इसकी एक प्रति राज्यपाल राम नाईक को सौंपी। इस आयोजन के लिए राष्‍ट्रपति ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इसकी बधाई दी।

 

 

 

 

इस मौके पर उन्होंने कहा कि लघु एवं मध्यम उद्योग देश के अर्थव्यवस्था की रीढ़ है। ओडीओपी (वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोडक्ट) से यह और मजबूत होगी। प्रदेश में बड़ी संख्या में रोजगार पैदा होंगे। जिससे युवाओं को खास फायदा होगा और प्रदेश से पलायन रुकेगा।

दिया कुंभ मेले में प्रदर्शनी लगाने का सुझाव

राष्ट्रपति ने कहा कि प्रदेश की अर्थव्यवस्था वन ट्रिलियन डॉलर की हो सकती है। इसके लिए उत्पादन को बढ़ावा देने के साथ ही उत्पादों की ब्रांडिंग जरूरी है। ओडीओपी योजना इस काम में मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने प्रदेश के उत्पादों की ब्रांडिंग के लिए देश के महानगरों व 2019 में होने वाले कुंभ मेले में प्रदर्शनी लगाने का सुझाव दिया।

राष्ट्रपति ने कहा कि मुझे बताया गया है कि इस योजना से अगले पांच वर्षों में 25 लाख रोजगार पैदा होंगे। जिससे युवाओं को उनके शहर व उनके गांव में रोजगार मिल सकेगा। उन्‍होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया और कहा कि अटल जी कहा करते थे उत्तर प्रदेश, उत्तम प्रदेश है। जो इसकी खोज कर लेगा उसे पता चलेगा कि यह प्रदेश कितना संभावनाओं से भरा हुआ है। यूपी में ताजमहल है। कई नदियां हैं और देश का सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है जो प्रदेश को सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने में मदद कर सकता है।

प्रतिभाओं की खान है यूपी

राष्‍ट्रपति कोविंद ने कहा कि मैंने अलग-अलग जिलों के उत्पादों की प्रदर्शनी देखी। बांदा के केन नदी के पत्थर से बनी आकृति तो देखती ही बनती है। उन्होंने कहा कि यूपी से जो चुनाव लड़ता है उसे प्रधानमंत्री बनने का मौका मिलता है। उत्तर प्रदेश ऐसी ही प्रतिभाओं की खान है।

 

 

सीएम योगी ने किया संबोधित

इस मौके पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में निवेश का माहौल बना है। निवेशक लगातार आ रहे हैं। वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट से प्रदेश की तस्वीर बदल जाएगी। इससे हर साल पांच लाख युवाओं को अपने जिले में अपने गांव में रोजगार मिलेगा। प्रदेश सरकार हर संभव प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा दे रही है। यूपी सरकार ने खुद स्टार्टअप के लिए 250 करोड़ रुपये की व्यवस्था की है। सरकार ने हर साल एक लाख लोगों को ओडीओपी योजना से जोड़ने का लक्ष्य निर्धारित किया है।

 

उन्होंने कहा कि जब हमें सत्ता मिली तो प्रदेश की हालत क्या थी यह किसी से छिपा हुआ नहीं है। हमें अलग-अलग मोर्चों पर काम करना था। प्रदेश से युवाओं का पलायन रोकना था। जिस पर हम कम से कम समय में जो कर सकते थे कर रहे हैं। कानून-व्यवस्था में सुधार से प्रदेश की छवि बदली है।

 

 

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि आज जापान और थायलैंड से ज्यादा संभावनाएं यूपी मे हैं। यूपी के पहले ही स्थापना दिवस समारोह में ओडीओपी (वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट) लागू किया। अब हर गांव में कोई न कोई काम शुरू होगा। हमने सिर्फ पांच महीने में ही इन्वेस्टर्स समिट को जमीन पर उतारा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 60 हजार करोड़ की 81 परियोजनाओं का शिलान्यास किया है। योगी ने कहा कि अब अब विश्कर्मा श्रम सम्मान योजना लागू कर रहे है। जिससे कि श्रमिकों को सम्मान मिलेगा।

 

यूपी के युवा प्रदेश की धरोहर: राज्‍यपाल

राज्यपाल रामनाईक ने कहा कि ओडीओपी से प्रदेश में कृषि के साथ ही ग्रामीण उद्योगों को भी बढ़ावा मिलेगा। इससे प्रदेश में पलायन रुकेगा। यूपी के युवाओं को अब प्रदेश में ही रोजगार मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के युवा प्रदेश की धरोहर हैं। मुख्यमंत्री योगी ने उनकी ताकत को पहचाना है। उत्तर प्रदेश पूरे देश के लिए एक मॉडल बनेगा। जिससे देश के अन्य राज्य भी इसका अनुसरण करेंगे।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll

Readers Opinion