Home Up News Posters Against Bangladesh Students In Deoband

बीजेपी ने चुनाव लड़ने के लिए करोड़ों रुपये दिए- कांग्रेस

हिमाचल के किन्नौर में भूकंप के झटके, तीव्रता 4.1

कुमारस्वामी से मुलाकात के बाद तय होगी आगे की रणनीतिः गुलाम नबी आजाद

गहलोत और वेणुगोपाल ने राहुल को कर्नाटक के ताजा हालात की जानकारी दी

कर्नाटक चुनाव में भाजपा ने 6000 करोड़ रुपये खर्च किए- आनंद शर्मा

देवबंद: बांग्लादेशी छात्रों के खिलाफ पोस्टर, महीनेभर में देश छोड़ने की धमकी

UP | Last Updated : Feb 13, 2018 01:21 PM IST

Posters against Bangladesh Students in Deoband


दि राइजिंग न्‍यूज

सहारनपुर।

 

दारुल उलूम देवबंद में बांग्लादेशी छात्रों को निशाना बनाते हुए सोमवार को धमकी भरे पोस्टर लगाए गए। इनमें बांग्लादेशियों को देवबंद से भागने की धमकी दी गई है। पोस्टर सामाने आने के बाद से पुलिस और एडमिनिस्ट्रेशन ने जांच शुरू की है। सहारनपुर के एसएसपी बब्लू कुमार ने कहा कि पोस्टर किसने लगाएं हैं, इसकी जांच हो रही है। अहम सबूत मिलने पर सख्त एक्शन लिया जाएगा।

 

 

देवबंद में बांग्लादेशी छात्रों को दारुल उलूम छोड़ने के पोस्टर लगाए गए हैं। हालांकि, इसका पता नहीं चला है कि इन्हें किसने लगाया है। माना जा रहा है कि पोस्टर्स के पीछे तब्लीगी जमात (धर्म प्रचार संगठन) के अमीर मौलाना साद और दारुल उलूम के बीच मतभेद भी एक वजह हो सकते हैं।

इस बारे में पुलिस दीनी इदारों में जाकर पूछताछ कर रही है। वहीं, खुफिया एजेंसियों के अफसर भी अपने तरीके से मामले की जांच में जुटे हुए हैं।

 

क्या लिखा है पोस्टर्स में?

सोमवार को कई इलाकों में मस्जिदों की दीवार पर बांग्लादेशियों के खिलाफ पोस्टर चस्पा किए गए। इसमें विदेशी छात्रों को धमकी देते हुए कहा गया है कि अगर उन्होंने एक महीने के अंदर देश नहीं छोड़ा तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे।

 

 

बांग्लादेश के दौर पर हैं मोहतमिम

बता दें कि दारुल उलूम देवबंद के मोहतमिम (vice-chancellor) मौलाना मुफ्ती अबुल कासिम नोमानी इन दिनों बांग्लादेश के दौरे पर गए हैं।



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...