Sooraj Pancholi to donate his earnings from satellite shankar to army

दि राइजिंग न्‍यूज

बुलंदशहर।

 

पिछले साल तीन दिसंबर को बुलंदशहर जिले में भड़की हिंसा का आरोपी और बजरंग दल का जिला संयोजक योगेश राज गिरफ्तार हो गया है। हिंसा की घटना के एक महीने बाद वह पुलिस के शिकंजे में आया है। भीड़ द्वारा हिंसा की इस घटना में पुलिस इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की हत्या कर दी गई थी। योगेश राज पर हिंसक भीड़ को भड़काने का आरोप है।

पुलिस ने बीती रात योगेश को गिरफ्तार किया। बता दें कि योगेश राज बजरंग दल का जिला संयोजक है। हालांकि, पुलिस ने योगेश की गिरफ्तारी का खुलासा नहीं किया है। जानकारी के मुताबिक, हिंसा के मुख्य आरोपी योगेश की गिरफ्तारी पर एसएसपी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं।

सोमवार को हुई थी आरोपी कलुआ की गिरफ्तारी

पिछले साल 3 दिसंबर को भड़की हिंसा के दौरान पुलिस निरीक्षक सुबोध कुमार सिंह पर कुल्हाड़ी से हमला करने के आरोप में बीते सोमवार को यूपी पुलिस ने कलुआ नाम के आरोपी को गिरफ्तार किया था। पुलिस के मुताबिक इम मामले में अब तक 33 आरोपियों की गिरफ्तारी हो चुकी है।

गिरफ्तार आरोपी कलुआ ने पुलिस को बताया कि 3 दिसंबर को वह सड़क को अवरूद्ध करने के लिए पेड़ गिरा रहा था लेकिन पुलिस निरीक्षक ने उसे ऐसा करने से रोका तो उसने अधिकारी पर कुल्हाड़ी से हमला कर दिया। इससे पहले पुलिस ने 27 दिसंबर को आरोपी प्रशांत नट को गिरफ्तार किया था। उसने कुल्हाड़ी से हमले के बाद सुबोध कुमार सिंह की कथित रूप से गोली मारकर हत्या कर दी थी।

ये था मामला

भीड़ की हिंसा और गो हत्या के मामले में 18 दिसंबर को 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। बता दें कि जिले के महवा गांव के पास एक खेत में गाय का शव मिलने के बाद हिंसा भड़क गई थी। हिंसा में निरीक्षक और एक युवक की मौत हो गई थी। चिंग्रावती पुलिस चौकी पर हिंसा के बाबत स्याना थाने में 27 नामजद और 50-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी। इस दौरान सेना के जवान जितेंद्र मलिक को भी गिरफ्तार कर लिया गया था, जिसे अभी हिरासत में रखा गया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement