Home Up News Police And STF Team Arrested Criminal Kulveer Bhati In Joint Operation

जज लोया मौत केसः SC ने कहा- नहीं होगी सीबीआई जांच

जज लोया मौत केसः SC ने कहा- जजों के बयान पर शक की वजह नहीं

दिल्ली पुलिस पीसीआर पर तैनात एएसआई धर्मबीर ने खुद को गोली मारी

दिल्ली: केंद्रीय खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह ने की IOC प्रतिनिधिमंडल से मुलाकात

बिहार: पटना के एटीएम में कैश ना होने से स्थानीय लोग परेशान

पुलिस-एसटीएफ की बड़ी कामयाबी, धरा गया एक लाख का इनामी

UP | 10-Nov-2017 13:55:37 | Posted by - Admin
   
Police and STF Team Arrested Criminal Kulveer Bhati in Joint Operation

दि राइजिंग न्‍यूज

ग्रेटर नोएडा।

 

ग्रेटर नोएडा में पुलिस और एसटीएफ को बड़ी कामयाबी मिली है। यहां दोनों की टीम ने मिलकर सालों से फरार चल रहे कुख्यात बदमाश कुलवीर भाटी को गिरफ्तार कर लिया है। ये कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना की गैंग को हैंडल कर रहा था और एक एक लाख का इनामी था।

 

 

ग्रेटर नोएडा का गांव रिठौरी थाना क्षेत्र दादरी उस वक्त छावनी में तब्दील हो गया जब पुलिस एसटीएफ की टीम के साथ मिलकर सालों से फरार चल रहे कुख्यात बदमाश कुलवीर भाटी को गिरफ्तार करने पहुंची। गिरफ्तारी के बाद जब उसे एसटीएफ ऑफिस लेकर आया गया तो उसे देखने के लिए वहां गांव वालों का जमावड़ा लग गया।

 

 

 

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक दादरी थाना क्षेत्र के गांव रिठौरी से सूचना मिल रही थी कि कुख्यात अपराधियों से जिले में घटनाओं का अंदेशा बना हुआ है। उसी के आधार पर एसटीएफ और पुलिस की एक सयुंक्त टीम बनाई गई और गांव में दबिश दी गई। बदमाश कुलवीर भाटी अपने साथियों के साथ गांव में ही मौजूद था। वहीं उसकी घेराबंदी कर गुरुवार लगभग 3:30 बजे कुलबीर और वीरेंदर इसके साथी को गिरफ्तार कर लिया गया और थाना दादरी द्वारा इस पर कार्रवाई कर जेल भेजा गया।

 

 

पुलिस की मानें तो अनिल दुजाना व रणदीप भाटी के बाद रिठौरी गैंग को कुलवीर भाटी ही संभाल रहा था और कुलवीर भाटी का सहयोग अमित कसाना और योगेश भाटी कर रहे थे। इनामी बदमाश ने सुरेंदर भाटी के भाई प्रताप लेखपाल का मर्डर की बात कबूल की है, जिसके आरोप में नौ महीने जेल में रहा, उसके बाद 2011 में एक शादी समारोह में सुन्दर भाटी की हत्या करने की कोशिश कबूल की जो कि नाकाम रही।

 

 

इसके बदमाश के खिलाफ पुलिस में हत्या, लूट जैसे कई गंभीर मुकद्दमे दर्ज हैं। पुलिस और भी जिलों में इसके खिलाफ मामलों की जांच कर रही है। अभी इसके पास से पुलिस ने दो पिस्टल 32 बोर, सात जिन्दा कारतूस, 2100 रुपए बरामद किए हैं। 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news