Crowd Rucuks At Sapna Chaudhary Program in Begusaray of Bihar

 

दि राइजिंग न्‍यूज

मेरठ।

सरधना (मेरठ) रार्धना गांव में 7 दिन पूर्व विषैला पदार्थ का सेवन करने से हुई प्रेमी युगल की मौत के बाद अब उसमे नया मोड़ आ गया है। मृतक किशोरी के पिता ने मृतक युवक के परिजनों व स्थानीय चिकित्सक पर अपनी बेटी की हत्या का आरोप लगाते हुए थाने में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है। बता दें कि गांव रार्धना राजपूत बाहुल्य गांव है यहां कुछ परिवार विशेष समुदाय के भी रहते है। गांव निवासी कक्षा 11 की छात्रा रही किशोरी का पड़ोसी युवक से प्रेम प्रसंग चल रहा था। गत 6 सितंबर की सुबह किशोरी के पिता गांव के बाहर चले गए। दोनों भाई भी गांव में घूमने चले गए थे और माँ जहारवीर मेले में प्रसाद चढाने के लिए गई थी। इसी बीच पड़ोसी युवक प्रेमिका के घर चला गया इस दौरान किशोरी का भाई वहां आगया और दोनों को एक साथ देख आगबबूला हो गया।

तभी प्रेमिका के भाई व युवक के बीच कहासुनी भी हुई जिसके बाद प्रेमीयुगल ने कीटनाशक का सेवन कर लिया था। इसके बाद दोनों की हालत बिगड़ी तो युवक के परिजनों उसे लेकर स्थानीय चिकित्सक के यहाँ गए जिसे मेरठ के लिए रैफर किया गया। किशोरी के परिजन भी उसे पहले स्थानीय चिकित्सक के यहाँ उपचार को ले गए जहाँ से उसे सरधना के लिए भेज दिया गया सरधना में चिकित्सक ने उसे मृतक घोषित कर दिया था।

शाम के समय युवक की भी मौत हो गयी थी। दोनों की मौत के बाद हुए सांप्रदायिक तनाव के चलते गाँव को छावनी में तबदील करना पड़ा था। गांव में विशेष समुदाय के घरों में की गई तोड़फोड़ व मारपीट की घटना के बाद एसएसपी को भी गांव पहुंचना पड़ा था।

किशोरी का अंतिम संस्कार भारी पुलिस फ़ोर्स की मौजूदगी में गांव में ही किया गया था। जबकि दहशत में आए विशेष समुदाय के लोगों ने युवक का अंतिम संस्कार सरधना में किया था। जिसके बाद मृतक युवक का परिवार गाँव में नहीं गया है। अभी भी गांव में पुलिस व पीएससी तैनात है।

 

गांव में दहशत

युवक की मौत के बाद उसका परिवार घर छोड़कर भाग आया था। उनकी गैर मौजूदगी में उनके घरों से सामान चोरी हो गया।

प्रेमीयुगल की मौत मौत के बाद गांव में बवाल होने पर विशेष समुदाय के लोग दहशत में आ गए हैं। उसी दहशत के चलते मृतक युवक खालिद के परिजन भी गांव छोड़कर आ गए थे। मृतक के भाई आस मोहम्मद ने बताया की उसके घरों में रखा काफी सामान चोरी कर लिया गया है। दहशत के चलते वह गांव में नहीं जा रहे है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement