Home Up News Minister Om Prakash Rajbhar Gave Ultimatum To His Samaj For Education

मथुरा: कोसी कलां में ट्रक और बाइक की भिडंत से 3 लोगों की मौत

इराक में गायब भारतीयों के डीएनए सेम्पल जुटाए जाएंगे

पंजाब: संगरूर के पटियाला रोड पर कई वाहनों के आपस में टकराने से 3 लोगों की मौत

कर्नाटक: बीजेपी ने सीएम सिद्धरमैया पर 418 करोड़ के कोयला घोटाले का आरोप लगाया

अमेरिकी विदेश मंत्री टिलरसन 24 अक्टूबर को भारत दौरे पर आएंगे

Trending :   #Hot_Photoshot   #Sports   #Politics   #Hollywood   #Bollywood
   

“बच्‍चों को स्‍कूल नहीं भेजने वाले पेरेंट्स जाएंगे जेल”

UP | 09-Oct-2017 13:30:44
Minister Om Prakash Rajbhar gave Ultimatum to His Samaj for Education

दि राइजिंग न्‍यूज

बलिया।

 

बीजेपी के अध्यक्ष व कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर अपने समाज के प्रति बेहद संजीदा हैं। करीब एक महीने पहले राजभर समाज को शराब का कम सेवन करने की सलाह देने वाले ओमप्रकाश राजभर अब बच्चों को स्कूल भेजने के प्रति बेहद गंभीर हैं। बलिया में रविवार को उन्होंने अपने समाज को इस बाबत अल्टीमेटम भी दिया।

 

 

रविवार को प्रदेश के दिव्यांग एवं पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ने राजभर समाज के एक कार्यक्रम को संबोधित किया। रसड़ा में आयोजित इस कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि अपने बच्चों को स्कूल न भेजने वाले अभिभावकों को पांच दिन तक थाने में भूखा-प्यासा बैठाएंगे।

 

कैबिनेट मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने रसड़ा कस्बे के गांधी मैदान में आयोजित पार्टी के कार्यक्रम में कहा कि- मैं अपने मन का कानून बनाने वाला हूं। समाज के जिस गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, उसके मां-बाप को पांच दिन थाने में बैठाऊंगा। न पानी पीने दूंगा और न ही खाना खाने दूंगा।

उन्होंने कहा कि अगर आप लोगों ने बच्चों को स्कूल नहीं भेजा तो आपको उठवाकर थाने ले जाया जाएगा। इस नाते कह रहा हूं कि देखिए अभी तक आपका नेता, आपका बेटा, आपका भाई आपको समझा रहा था। आपने अगर मेरी बात नहीं मानी, तो छह महीने और मनाऊंगा।

 

राजभर ने कहा कि भगवान राम ने समुद्र को तीन दिन मनाया था, जब वह नहीं माना तो भगवान को हथियार उठाना पड़ा। समुद्र त्राहिमाम-त्राहिमाम करने लगा। उसी तरह जिस भी गरीब का बच्चा विद्यालय नहीं जाएगा, छह महीने के बाद उसे थाने में पहुंचा दूंगा, चाहे भले ही मुझे फांसी क्यों ना हो जाए। उन्होंने इसके बाद मौजूद भीड़ का हाथ उठवाकर पूछा कि कोई गलत काम तो नहीं है। कितने लोग इसके समर्थन में हैं। इस पर अनेक महिलाओं ने हाथ उठाकर सहमति जतायी।

 

 

मान-सम्मान से समझौता नहीं

ओमप्रकाश राजभर ने कहा है कि जिस सामाजिक आंदोलन की शुरुआत मैंने 15 वर्ष पहले की थी। आज वह एक आंदोलन का रूप ले चुका है। राजभर समाज के लोग जो आज तक अपने अधिकारों से वंचित रहे उन लोगों ने पार्टी के आंदोलन को और आगे बढ़ाने का कार्य किया और आज पार्टी अपने एजेंडे में काफी हद तक सफल साबित हो चुकी है।

 

 

उन्होंने कहा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं के मान-सम्मान के साथ कोई भी समझौता नहीं किया जाएगा। जिस आंदोलन की शुरुआत कार्यकर्ताओं के सहयोग से की गई थी। उस आंदोलन को देश स्तर तक फैलाकर सभी पिछड़ों को उनका हक दिलाने के लिए कार्य किया जाएगा।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555


संबंधित खबरें



HTML Comment Box is loading comments...

Content is loading...





What-Should-our-Attitude-be-Towards-China


Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll


Photo Gallery
अब कब आओगे मंत्री जी । फोटो- अभय वर्मा

Flicker News



Most read news

 


Most read news


Most read news


sex education news


उत्तर प्रदेश

खेल-कूद


rising news video

खबर आपके शहर की