Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्‍यूज

गाजीपुर।

 

मोदी सरकार में रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा एक ऐसा काम किया जिसे जानकर आप भी तारीफ करेंगे। वह आज गा‍जीपुर जिले के शाह फैज पब्लिक स्कूल पहुंचे और यहां उन्होंने अभिवावक बनकर एक बच्ची का स्कूल में एडमिशन कराया। बच्ची की मां दिव्यांग हैं। जिसके बाद बच्ची को गोद में लेकर खुद रेल राज्यमंत्री स्कूल पहुंचे और उसे स्कूल में प्रवेश दिलाया।

 

 

 

शाह फैज पब्लिक स्कूल में रविवार को छुट्टी के दिन भी काफी गहमागहमी रही, क्योंकि रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा यहां अचानक पहुंच गए। उन्होंने दिव्यांग महिला रिंकू यादव की साढ़े तीन साल की मासूम बच्ची रोहानिका का स्कूल की नर्सरी क्लास में बतौर अभिभावक एडमिशन कराया। मंत्री मनोज सिन्हा के इस रूप को देखकर स्कूल में मौजूद लोग अचंभित थे।

 

 

शहर में रहने वाली साढ़े तीन साल की मासूम बच्ची रोहानिका की मां रिंकू दिव्यांग हैं। रिंकू ने बताया कि उसके पति ने कुछ वर्ष पहले उस पर जानलेवा हमला किया जिसके बाद पति जेल में है। ऐसी हालत में वह बेहद मुफलिसी और बेबसी की जिंदगी बसर कर रही हैं। मंत्री मनोज सिन्हा ने दिव्यांग महिला की मदद के लिए कदम उठाया। उन्होंने मेरी मासूम बच्ची की बेहतर शिक्षा के लिए न सिर्फ निर्देश दिए, बल्कि खुद ही अभिभावक के तौर पर एडमिशन कराने स्कूल पहुंचे।

 

 

 

छुट्टी के दिन खुलवाया स्कूल

मंत्री मनोज सिन्हा ने रिवावार को स्कूल खुलवाया और इंग्लिश मीडियम में छात्रा का एडमिशन काराया।

उन्‍होंने कहा, मुझे उम्मीद है कि ये बच्ची एक दिन जनपद का नाम रौशन करेगी। उन्होंने कहा कि यहां का जनप्रतिनिधि होने के कारण मेरा कर्तव्य है कि मैं लोगों की मदद करूं।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement