FIR Registered Against Singer Abhijeet Bhattacharya For Misbehavior From Woman

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ।

 

यूपी सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री मोहसिन रजा की मुश्किलें अब बढ़ सकती हैं। रजा के निकाहनामे प्रमाण पत्र न लेने के कारण विवाह प्रमाण पत्र लैप्‍स हो गया है। हालांकि इस मामले में मंत्री ने सफाई देते हुए कहा है कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है। इस मामले में जल्द ही सभी कानूनी प्रक्रियाएं पूरी कर ली जाएंगी।

 

बता दें कि बीजेपी की सरकार बनते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सूबे में शादियों के रजिस्ट्रेशन को अनिवार्य कर दिया था। मुस्लिम संगठनों द्वारा सरकार की इस पहल के विरोध के बीच वक्फ और हज मंत्री मोहसिन रजा ने अपने निकाह का रजिस्ट्रेशन करवाकर खूब सुर्खियां बटोरी थीं, लेकिन अब उनका ही रजिस्ट्रेशन आवेदन निरस्त हो गया है।

गौरतलब है कि रजा ने निकाह के करीब 16 साल बाद तीन अगस्त को निकाहनामे के रजिस्ट्रेशन का आवेदन दिया था। जिसके बाद अपर जिलाधिकारी अनिल कुमार के कार्यालय से सर्टिफिकेट के लिए दो बार मंत्री को फोन से जानकरी दी गई लेकिन उनके उपस्थित नहीं होने की वजह से निकाहनामे का रजिस्ट्रेशन रद्द कर दिया गया।

 

“मीडिया में लगातार मंत्री मोहसिन रजा के शादी कैंसिल होने की जानकारी आ रही है। यह पूरी तरह गलत है वह प्रमाण पत्र लेने नहीं आए इसलिए उनका प्रार्थना पत्र लैप्‍स हुआ है। बाकी के सारे दस्‍तावेज कार्यालय में हैं। उन्‍हें आने की भी जरूरत नहीं है। वह जिसे भी चाहें कार्यालय भेज कर प्रार्थना पत्र फिर से सबमिट करवा सकते हैं। यदि यह कैंसिल होता तो वह कोर्ट में जाकर अपील कर सकते थे लेकिन ऐसा कुछ नहीं है जो भी जानकारी आई वह सब फर्जी है।”

अनिल कुमार

एडीएम टीजी

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll