Home Up News Mayawati Comments On RSS Chief Mohan Bhagwat Over His Statement On The Indian Army

दिल्ली: मुख्य सचिव की मेडिकल रिपोर्ट आई, कंधे पर चोट की पुष्टि‍

स्वर्ण मंदिर पहुंचे कनाडा के पीएम जस्ट‍िन ट्रूडो

गुस्से में कर्नाटक की जनता, कांग्रेस को उखाड़ फेंकेगी: अमित शाह

दिल्ली सचि‍वालय में इंटर डिपार्टमेंट बैठक कर रहे हैं डिप्टी सीएम सिसोदिया

PNB घोटाला केस पर PIL दाखिल करने वाले याचिकाकर्ताओं को SC की फटकार

“स्वयंसेवकों पर भरोसा है तो कमांडो क्यों ले रखें हैं?”

UP | 13-Feb-2018 16:55:29 | Posted by - Admin
   
Mayawati Comments on RSS Chief Mohan Bhagwat over His Statement On The Indian Army

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवन द्वारा सेना की तुलना स्यवंसेवकों से करने पर यूपी की पूर्व मुख्‍यमंत्री मायावती ने आपत्ति जाहिर की है। मंगलवार को एक बयान जारी कर उन्होंने कहा कि मोहन भागवत को अपने मिलिटेंट स्वयंसेवकों पर इतना ज्यादा भरोसा है तो उन्हें सुरक्षा के लिए सरकारी खर्चे पर विशेष कमांडो क्यों ले रखे हैं?

गौरतलब है कि आरएसएस प्रमुख ने मुजफ्फरनगर में स्वयंसेवकों की एक सभा को संबोधित करते हुए कहा था कि हम सैन्य संगठन नहीं हैं। मगर सेना जैसा अनुशासन हमारे अंदर है। अगर देश को जरूरत पड़े और देश का संविधान, कानून कहे तो सेना तैयार करने को छह-सात महीने लग जाएंगे। संघ के स्वयंसेवकों को लेंगे तो तीन दिन में तैयार हो जाएगे। ये हमारी क्षमता है।

बसपा सुप्रीमो ने कहा कि ऐसे समय में जब सेना को विभिन्न प्रकार की चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है, मोहन भागवन का बयान सेना के मनोबल को गिराने वाला है। इसकी इजाजत उन्हें नहीं दी जा सकती। मायावती ने आरएसएस प्रमुख से अपने बयानबाजी के लिए देश से मांफी मांगने को कहा है।

इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि आरएसएस अब सामाजिक संगठन न रहकर राजनैतिक संगठन में तब्दील होता जा रहा है, जो बीजेपी की चुनावी राजनीति करने में व्यस्त नजर आता है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news