Priyanka Chopra Shares Her Experience of Health Issues

दि राइजिंग न्‍यूज

बागपत।

 

माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या की न्यायिक जांच शुरू हो गई है। गुरुवार को जांच अधिकारी एडीएम ने पुलिस के साथ जेल प्रशासन से इस हत्याकांड से जुड़े साक्ष्य मांगे हैं। बागपत जिला जेल में पूर्वांचल के माफिया डॉन प्रेम प्रकाश सिंह उर्फ मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की मजिस्ट्रेट जांच शुरू हो चुकी है। जांच अधिकारी एडीएम ने पुलिस व जेल अधिकारियों से हत्याकांड से जुड़े साक्ष्य मांगे हैं।

इसके साथ ही आमजन भी एडीएम के समक्ष उपस्थित होकर लिखित या मौखिक साक्ष्य दे सकते हैं। इसके अलावा एसपी को निर्देश दिए गए हैं कि वह मुन्ना बजरंगी के परिवार वालों को बयान देने के लिए उपस्थित होने की सूचना प्रेषित कराएं।

सीएम योगी ने कही थी जांच की बात

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की मजिस्ट्रेट जांच कराने की बात कही थी। इस पर डीएम ऋषिरेंद्र कुमार ने एडीएम वित्त व राजस्व लोकपाल सिंह को जांच अधिकारी नामित किया। एडीएम ने जांच शुरू करते हुए तीन दिन में जेल अधीक्षक से हत्याकांड से संबंधित उपलब्ध अभिलेखों की प्रमाणित प्रति तथा थाना खेकड़ा प्रभारी निरीक्षक से समस्त अभिलेख, एफआइआर तथा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आदि की प्रमाणित प्रति उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।

इसके अलावा आमजन भी 25 जुलाई तक किसी भी कार्य दिवस में सुबह 10 से शाम पांच बजे तक एडीएम के समक्ष उपस्थित होकर साक्ष्य उपलब्ध करा सकते हैं। एडीएम ने इसकी पुष्टि की है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement