Home Up News Latest Updates Over Samajwadi Party Protest

चुनी हुई सरकारों की अनदेखी कर रही है बीजेपी: अरविंद केजरीवाल

दिल्ली: नतीजों से पहले बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बुलाई बैठक

IndVsSri: भारत को जीतने के लिए 216 रनों का लक्ष्य मिला

राजकोट में CM रुपाणी की जीत के लिए जैन समाज के लोगों ने किया हवन

गाजियाबाद: वसुंधरा में 5वीं क्लास के स्टूडेंट से छेड़छाड़ के आरोप में एक अरेस्ट

बिजली के बहाने वोटरों को साधने की कवायद

UP | 07-Dec-2017 12:05:03 | Posted by - Admin
  • निकाय चुनावों के नतीजों के बाद एक्शन मोड में समाजवादी पार्टी
   
Latest Updates over Samajwadi Party Protest

दि राइजिंग न्‍यूज

संजय शुक्ल

लखनऊ।

 

प्रदेश में निकाय चुनावों में भले ही शहरों मे भाजपा अपना दबदबा कायम रखने में सफल रही हो लेकिन ग्रामीण इलाकों में उसके वोट बैंक में सेंध लगी है। नतीजों के बाद अब विपक्षी दलों को भी ग्रामीण इलाकों में कुछ आशा की किरण दिखने लगी है और यही कारण है कि गुरुवार को अपने बिखरे वोटों को सहजने के लिए समाजवादी पार्टी एक्शन मोड में दिखाई देने लगीं। इसी क्रम में बढ़ी बिजली दरों को लेकर समाजवादी अब सड़क पर उतर आई है।

 

 

खास बात यह है कि बिजली की दरों में इजाफा करीब एक सप्ताह पहले हुआ था। उसके बाद समाजवादी पार्टी ने बिजली दरों में इजाफे पर अपनी प्रतिक्रिया तो दी लेकिन आंदोलन से दूर ही रही। निकाय चुनावों के नतीजों के बाद ही पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम की अध्यक्षता में नेताओं ने राज्यपाल को ज्ञापन देकर उनसे बढ़ी बिजली दरों को वापस लेने की मांग भी की थी। उसी क्रम में अब समाजवादी पार्टी इसे मुद्दा बनाने के लिए कवायद में दिख रही है।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

पार्टी के सूत्रों के मुताबिक निकाय चुनाव में बड़े नेताओं की बेरुखी के बावजूद ग्रामीण क्षेत्रों में समाजवादी पार्टी को मिलने वाले वोटों का प्रतिशत पिछले विधानसभा चुनावों के मुकाबले काफी बढ़े हैं। समाजवादी पार्टी कई नगर पंचायतों में सफल भी रही और नतीजे उसके पक्ष में थे। बिना ज्यादा मशक्कत के बाद इन नतीजों ने पार्टी में नया उत्साह फूंक दिया है।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

यही नहीं, दो दिन पूर्व पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी प्रदेश भर में जिलाध्यक्षों को पत्र भेज कर उनसे बिजली की बढ़ी दरों के खिलाफ लोगों के बीच जाने के निर्देश दिए थे। उसी क्रम में बिजली दरों में इजाफे के खिलाफ सपा गुरुवार को सड़क पर उतर आईं।

 

 

भाजपा के खिलाफ माहौल बनाने की तैयारी

दरअसल समाजवादी पार्टी किसानों की कर्ज माफी, किसानों को फसल की उचित कीमत न मिलने के कारण हो रही दिक्कतों, महंगाई के बाद अब दरों में इजाफे के जरिए भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ माहौल बनाने में जुट गई है। पार्टी के नेताओं के मुताबिक ईवीएम–बैलेट पेपर के विवाद से अलग निकाय चुनाव के नतीजों से यह साफ हो गया है कि ग्रामीण क्षेत्रों में भारतीय जनता पार्टी के कामकाज से लोग खुश नहीं है।

 

फोटो- अभय वर्मा

 

 

यही कारण रहा कि भले ही शहरों में भाजपा जीती हों लेकिन ग्रामीण क्षेत्रों में उसका वोट भी घटा है और सीटे भी कम मिली हैं। सरकार की इस मनमानी से हर वर्ग दुखी है और समाजवादी पार्टी आम लोगों को साथ लेकर इस सरकार को बदलने के लिए काम करेगी। इसकी शुरुआत भी कर दी गई है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news