Director Kalpana Lajmi Passed Away

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

अयोध्या में राम मंदिर के बनने के मुद्दे पर बातचीत-बैठकों का दौर लगातार जारी है। ऐसे में शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने इस विवाद का हल सुझाया है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर वहीं बनना चाहिए क्योंकि वहां पर रामलला का जन्म हुआ है, मस्जिद तो कहीं भी बन सकती है।

 

 

वसीम रिजवी के मुताबिक विवाद के तमाम पक्षकारों से उनकी बात हुई है। उन्होंने कहा कि शिया वक्फ बोर्ड को इस मामले में फैसला लेने का पूरा हक है। रिजवी के मुताबिक ये हिंदुओं की आस्था का सवाल है और मुझे लगता है कि मुसलमानों को इस विवाद से पीछे हट जाना चाहिए। हिन्दुस्तान का मुसलमान बिल्कुल फसाद नहीं चाहता, कुछ लोग हैं जो लोग ना तो पक्षकर हैं, बस इसके नाम पर दुकान चला रहे हैं।

 

 

रिजवी ने अपनी कौम के ही कुछ लोगों पर निशाना साधते हुए कहा कि- कुछ ऐसे मुल्ला हैं जो माहौल खराब करना चाहते हैं, लेकिन देश की आवाम ऐसा कतई नहीं चाहती। रिजवी ने कहा कि विवादित स्थल सुन्नी वक्फ बोर्ड की प्रॉपर्टी ही नहीं है। कुछ बाहरी ताकतें हैं जो हिंन्दुस्तान का माहौल खराब कर रही हैं। इसकी जांच होनी चाहिए कि आखिर क्यों नही अब तक बातचीत शुरू हो पाई है।

 

 

उन्‍होंने सुन्नी बोर्ड पर तंज कसते हुए कहा कि जब उनकी चीज ही नहीं है तो उनको किसी भी तरह मामले में दखल का हक नहीं है। रिजवी का दावा है कि सुप्रीम कोर्ट की डेट से पहले विवाद का कोई हल निकल आयेगा। सबसे खास बात ये कि चाहे जो फैसला हो विवादित जगह के बदले जो मस्जिद बनेगी वह बाबर के नाम पर नहीं बनेगी। अयोध्या में जो भी मस्जिद बनेगी अमन के नाम पर बनेगी और मुस्लिम आबादी में बनेगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement