Rani Mukerji to Hoist the National flag at Melbourne Film Festival

दि राइजिंग न्‍यूज

गोरखपुर।

 

गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में मासूमों की मौतों का सिलसिला जारी है। यहां 24 घंटों के भीतर ही 15 मासूमों ने दम तोड़ दिया। इसमें तीन की मौत की वजह इंसेफेलाइटिस से पीड़ित होना बताया गया है, जबकि इस दौरान इंसेफेलाइटिस के सात नए मरीज भर्ती हुए हैं।

इंसेफेलाइटिस की वजह से दम तोड़ने वालों में देवरिया का रितिक (4), रूबीन (2), कमलावती के नाम शामिल हैं।

 

 

इसके अलावा विभिन्न वजहों से बारह अन्य बच्चों की भी मौत हो गई। वहीं बीते चौबीस घंटे के दौरान भर्ती मरीजों में बिहार के एक देवरिया के तीन व सिद्धार्थनगर का एक, कुशीनगर के दो मरीज शामिल हैं। मेडिकल कॉलेज में जनवरी से अब तक इंसेफेलाइटिस से करीब 335 बच्चों की मौतें हो चुकी है, जबकि अभी 95 मरीजों का इलाज चल रहा है।

 

 

एक अंग्रेजी न्‍यूज रिपोर्ट के मतुाबिक अस्‍पताल के कुछ रिकॉर्ड सामने आए हैं। रिकॉर्ड्स की माने तो यहां पिछले चार दिनों में 333 से 360 मरीज दाखिल हुए हैं और रोज 10 से 12 की मौत हो रही है। सात अक्तूबर को 12, 8 को 20, 9 को 18 और 20 को 19 की मौत हुई हैं।

 

 

बताया जा रहा है कि ये ज्यादार मौतें हॉस्पिटल के नियोनेतल इंटेनसीव केयर यूनिट (एनआइसीयू) में हो रही है, जिसके पीछे कई कारण हैं। बता दें कि इससे पहले अगस्त के दूसरे हफ्ते में करीब 60 लोगों की मौत हुई थी, जिसमें अधिकतर मासूम थे।

एक साथ मौतों के बाद यूपी की योगी सरकार सवालों के घेरे में आ गई थी। इस आरोप में अस्पताल में की बड़ी लापरवाही का खुलासा हुआ और डॉक्टरों को पूछताछ का सामना भी करना पड़ा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll