Baaghi 2 Assistant Director Name Came in Physical Assault

दि राइजिंग न्यूज़

लखनऊ।

 

भाजपा जीत गई। निकाय चुनाव में फिर भगवा लहर चल पड़ी। तो क्‍या अब राम मंदिर का रास्‍ता साफ हो गया है? क्या अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की अड़चनें अब साफ हो जाएंगी? एक तरफ ये मामला सुप्रीम कोर्ट में है, तो दूसरी तरफ बीजेपी सांसद ने निकाय चुनाव में बीजेपी की जीत को राम मंदिर से जोड़कर नई अटकलों को जन्म दे दिया है।

 

इससे पहले योगी ने अयोध्या में दिवाली के दिन पूजा कर भगवान राम का आशीर्वाद लिया था, लेकिन आज अयोध्या की जनता ने भी निकाय चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी के माथे पर जीत का टीका लगाकर योगी की झोली भर दी।

बीजेपी के ऋषिकेश उपाध्याय अयोध्या के मेयर चुन लिए गए हैं। हालांकि अपनी हार से निराश समाजवादी पार्टी प्रत्याशी गुलशन बिंदु ने इसके लिए योगी सरकार के विकास की जगह प्रशासन की धांधली को जिम्मेदार ठहराया।

 

अयोध्या में बीजेपी की जीत को लेकर भले ही विकास बनाम धांधली की सियासत चल रही हो, लेकिन बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी की नजर में इस जीत के पीछे राम मंदिर की लहर है। स्वामी का यह भी दावा है कि अगले साल दिवाली में राम मंदिर निर्माण का काम शुरू हो जाएगा।

जब से यूपी की कमान योगी के हाथ में आई है, तब से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर हलचल तेज हो गई है। योगी खुद यहां कई बार आ चुके हैं। यहां उन्होंने दिवाली मनाई और यहीं से चुनाव अभियान का शंखनाद भी किया। ऐसे में निकाय चुनाव में इस जीत के बाद अटकलें तेज होना स्वाभाविक है कि क्या अब राम मंदिर का काम तेज होगा?

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement