Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

लखनऊ में विधानसभा, राजभवन के बाहर आलू फेंके जाने का मामला तेजी से बढ़ता जा रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर पलटवार किया है। अखिलेश ने प्रदेश की योगी सरकार पर अरोप लगाते हुए कहा कि सरकार गरीब किसानों को गिरफ्तार कर रही है।

 

 

लखनऊ पुलिस ने इस मामले में कन्नौज से सपा के दो नेताओं को गिरफ्तार किया है। कहा जा रहा है कि आलू फेंकने की योजना अखिलेश यादव के दो करीबी नेताओं ने मिल कर बनाई थी। आलू फेंकने की घटना को योगी सरकार ने बदनाम करने की साजिश बताया था।

कड़ाके की ठंड के बीच लखनऊ के वीवीआइपी इलाके में जहां मुख्यमंत्री से लेकर राजयपाल, मंत्री और बड़े-बड़े अफसर रहते हैं वहां लोग जब छह जनवरी की सुबह जागे तो हर तरफ सड़कों पर आलू फैला था। आलू, कन्नौज के कोल्ड स्टोरेज से आठ गाड़ियों में भरकर लखनऊ लाया गया था।

 

 

पुलिस के अनुसार कन्नौज में समाजवादी पार्टी नेता कक्कू चौहान और एक महिला नेता के पति ने ये पूरी प्लानिंग की थी। इस मामले में समाजवादी पार्टी के एक नेता और उनकी फॉर्चूनर गाड़ी को पुलिस ने पकड़ लिया है। अंकित भी गिरफ्तार हो चुका है, लेकिन यूपी पुलिस ने अखिलेश यादव के उन दो करीबी नेताओं के नाम का खुलासा नहीं किया है जिन्होंने आलू फेंकने की योजना बनाई थी।

इस घटना के बाद राज्य के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने इसे योगी सरकार को बदनाम करने की साजिश बताया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement