Salman Khan father Salim Khan Support MeToo Campaign in Bollywood

दि राइजिंग न्‍यूज

इलाहाबाद।

 

आज मकर संक्रांति के पावन पर्व पर संगमनगरी इलाहाबाद में आस्था का सैलाब उमड़ पड़ा। माघ मेला क्षेत्र में लोगों ने आज तड़के से ही कोहरे के बाद भी डुबकी लगाई। आज यहां करीब दस लाख लोगों के स्नान के बाद दान-पुण्य करने का अनुमान लगाया जा रहा है।

 

 

माघ मेला में कल्पवास कर रहे लोगों के साथ ही देश के कोने-कोने से पहुंचे लोगों ने गंगा, यमुना तथा अदृश्य सरस्वती के संगम पर स्नान किया। इस बार मकर संक्रांति दो दिन मनाई जा रही है। उदयातिथि को मानने वाले कल मकर संक्रांति मनाएंगे।

 

 

सूर्य उपासना के पर्व मकर संक्रांति पर आज संगम में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ी है। कड़ाके की सर्दी के बाद भी श्रद्धालुओं का सैलाब यहां पर त्रिवेणी के पावन जल में मुक्ति की डुबकी लगाने के लिए उमड़ रहा है। इस बार इस बार मकर संक्रांति पर सरदी के शबाब पर रहने के बाद भी लोगों की तादाद में कमी नहीं दिख रही है।

 

 

प्रशासन का अनुमान है कि सूर्य उपासना के सबसे बड़े पर्व मकर संक्रांति पर रविवार और सोमवार को दो दिनों में 75 लाख से ज्यादा श्रद्धालु संगम की पावन धारा में डुबकी लगायेंगे।

मेला प्रशासन की ओर से एडीएम सिटी अतुल कुमार सिंह का दावा है कि रविवार सुबह 10 बजे तक 22 लाख श्रद्धालु पुण्य की डुबकी लगा चुके हैं। संगम क्षेत्र में सूर्य उपासना के उत्साह में यहां कोई कमी देखने को नहीं मेल रही है।

 

 

लोग त्रिवेणी के जल में आस्था की डुबकी लगाकर आज के दिन का खास दान कर पुण्य अर्जित कर रहे हैं। मकर संक्रांति के स्नान पर्व के साथ ही इलाहाबाद के संगम तट पर आस्था का एक ऐसा शहर वजूद में है, जो अपने में कई मायने में अनोखा है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement