Home Up News Government School Teacher Had Arrested In Case Of Brokerage

चेन्नई: पत्रकारों ने बीजेपी कार्यालय के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

मुंबई: ब्रीच कैंडी अस्पताल के पास एक दुकान में लगी आग

कर्नाटक के गृहमंत्री रामालिंगा रेड्डी ने किया नामांकन दाखिल

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने हथियारों के साथ 3 लोगों को किया गिरफ्तार

11.71 अंक गिरकर 34415 पर बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी 10564 पर बंद

सरकारी स्कूल के शिक्षक को ठगी करना पड़ा भारी

UP | 09-Jan-2018 10:55:52 | Posted by - Admin
   
Government School Teacher had Arrested in Case of Brokerage

दि राइजिंग न्‍यूज

मुजफ्फरपुर।

 

मुजफ्फरपुर में जिला कार्यक्रम पदाधिकारी के कार्यालय में उस वक्त अजीब स्थिति उत्पन्न हो गई, जब सरकारी विद्यालय के एक अध्यापक दूसरे अध्यापक का कॉलर पकड़ कर पदाधिकारी के कार्यालय में दाखिल हुए।

 

 

बता दें कि कॉलर पकड़ने वाले शिक्षक ने दूसरे शिक्षक पर सर्विस बुक संधारण के नाम पर आठ हजार रुपये ठगने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई करने की मांग की। जिला कार्यक्रम पदाधिकारी पहले तो कुछ समझ नहीं पाए। जब दोनों शिक्षक को अलग-अलग बैठाकर मामले को समझा गया तो इनके कारनामों का पर्दाफाश हुआ।

 

मुजफ्फरपुर के गायघाट प्रखंड के उत्क्रमित मध्य विद्यालय गोदनपट्टी के शिक्षक राम मोहन राय अपने सर्विस बुक संधारण कर वेतन निर्धारण के लिए कार्यालय का चक्कर लगा रहे थे। इनके साथी शिक्षकों ने बताया कि दलाल के माध्यम से पैसा देने पर आपका वेतन निर्धारण हो जाएगा। 2015 के जुलाई मे सर्विस बुक और पैसा गायघाट के ही खजुरी मध्यविद्यालय के शिक्षक शंभु राय ने वेतन निर्धारण के नाम पर लिया था।

 

 

2018 तक सर्विस बुक वापस नहीं होने पर शिक्षक का धैर्य जबाव दे गया और आज जिला कार्यक्रम पदाधिकारी के प्रांगण मे दोनों शिक्षकों का आमना-सामना हो गया। पीड़ित शिक्षक ने आरोपित शिक्षक का कॉलर पकड़ कर पदाधिकारी के चैंबर तक घसीटते हुए ले गया।

 

वहीं पूरे मामले पर जब जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मुस्तफा हुसैन मंसुरी ने बताया कि दो शिक्षक जिस तरह से उलझते हुए आए हैं और चिल्लाते हुए आए हैं ऐसे में हमने सर्विस बुक रख लिए है और पे फिक्सेशन के नाम पर से इंकार नहीं किया जा सकता है। बहुत सारे ऐसे शिक्षक हैं जिनपर अंकुश लगाना बहुत जरूरी है।

 

ब्लॉक लेवल पर आदेश जारी कर दिया गया है कि बीडीओ और बीईओ इसके ऊपर कार्रवाई करें। अभी जो मामला हमारे संज्ञान में आया है उसके विरूद्ध स्पष्टीकरण लिया जाएगा और वे नियोजित शिक्षक हैं इसलिए नियोजन ईकाई को कार्रवाई के लिए अनुशंसा करूंगा।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news