Home Up News Foreign Tourist Are Afraid In Agra

देश में कानून को लेकर दिक्कत नहीं बल्कि उसे लागू करने को लेकर है: आशुतोष

पार्टी ने यशवंत सिन्हा को अहमियत दी जिससे वो अहंकारी हो गए: BJP सांसद

काबुल में आत्मघाती हमला, 9 लोगों की मौत, 56 घायल

सीताराम येचुरी फिर चुने गए CPI(M) के महसचिव

महाराष्ट्र: गढ़चिरौली मुठभेड़ में अबतक 14 नक्सली ढेर

विदेशी पर्यटकों के लिए “डर” की नगरी बन रही है आगरा

UP | Last Updated : Nov 07, 2017 09:33 AM IST
  • सेल्फी और पीछा करने से परेशान
   
Foreign Tourist are Afraid in Agra

दि राइजिंग न्‍यूज

आगरा। 

 

आगरा को “ताज” की नगरी के नाम से जाना जाता है और विदेशी पर्यटक यहां ताजमहल के दीदार के लिए आते हैं, लेकिन अब यह उनके लिए “डर” की नगरी बन रही है। दरअसल, आगरा जिले के फतेहपुर सीकरी में 22 अक्टूबर को स्विटजरलैंड के पर्यटकों पर हमले के बाद से ही यहां विदेशी सैलानियों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई जा रही है।

इसी कड़ी में एक न्‍यूज पोर्टल ने एक रिपोर्ट पेश की है, जिसमें बताया गया है कि आगरा घूमने आए विदेशी पर्यटक डरे रहते हैं। उन्हें पीछा करने का डर सताता है, साथ ही सेल्फी लेने वालों से भी वे परेशान होते हैं। बता दें, आगरा में हर साल करीब पांच लाख विदेशी पर्यटक आते हैं। ऐसे में ये रिपोर्ट चिंता बढ़ाने वाली है।

 

 

रिपोर्ट में ऑस्‍ट्रेलिया से आगरा घूमने आई 23 साल की विक्टोरिया बताती हैं- यहां वे कई बार खुद को असुरक्ष‍ित महसूस करती हैं। इसकी वजह ये है कि कई बार यहां घूमते हुए आस-पास से गुजर रहे लोग उनसे सेल्फी की डिमांड करते हैं। कई बार सेल्फी के लिए उनका पीछा भी किया जाता है। एक बार तो एक महिला ने मेरी गोद में उसका बच्चा दिया और मेरी तस्वीर ली। इस दौरान मुझे बिल्कुल भी कंफर्टेबल महसूस नहीं हुआ।

 

वहीं, कनाडा से आगरा घूमने आए विटल लाबोंटे ने कहा- यहां राह चलते बच्चे आपसे रुपए मांगने आते हैं। वो अपने जीवन का सुधारने की गुहार भी लगाते हैं। ये सब देखकर अच्छा नहीं लगता है।

 

 

इस मामले के बाद से ही टूर गाइड्स भी खासे नाराज हैं। उन्हीं में से एक शमसुद्दीन का कहना है- मुझे बहुत चिंता होती है जिस तरह की छवि आगरा की बनाई जा रही है। भविष्य को सोच कर अजीब लगता है। हमारा स्लोगन है “अतिथि देवो भव”, लेकिन हम अपने भगवान के साथ क्या कर रहे हैं। हम उन्हें सजा दे रहे हैं।

 

सोनभद्र में जर्मन टूरिस्ट की पिटाई

सोनभद्र में भी विदेशी नागरिक की पिटाई का मामला सामने आया। यहां चार नवंबर को ऐतिहासिक अगोरी किला घूमने आए जर्मन नागरिक एरिक विली की राबर्ट्सगंज रेलवे स्टेशन पर पिटाई कर दी गई। पिटाई करने वाला भी कोई और नहीं बल्कि रेलवे का इंजीनियर बताया जा रहा है।

 

एरिक विली ने आरोप लगाया है कि जब वह स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहा था तब अमन नाम का एक शख्स उसके पास आया और बहुत ही भद्दे तरीके से उसने उसे "वेलकम इंडिया" कहा साथ ही उसके मुंह से शराब की बदबू भी आ रही थी। दोनों के बीच इसी बात को लेकर हाथापाई हो गई और थोड़ी देर में यह मारपीट में बदल गई।

 

 

पर्यटन मंत्री ने सीएम योगी को लिखा था लेटर

स्विस कपल के साथ मारपीट की घटना के बाद केन्द्रीय पर्यटन राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के जे अल्फोंस ने चिंता व्यक्त करते हुए यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा था। अपने पत्र में अल्फोंस ने कहा था- फतेहपुर सीकरी में दो स्विट्जरलैंड नागरिकों पर हुए हमलों के बारे में जानकर मुझे बहुत दु:ख हुआ है। आप भी इससे सहमत होंगे कि ऐसे हमले हमारी छवि पर नकारात्मक प्रभाव डालते हैं और भारत को एक पर्यटन गंतव्य के रूप में बढ़ावा देने के हमारे प्रयासों को नुकसान पहुंचाते हैं।

 

दोषियों की जल्द से जल्द पहचान करने, उनके खिलाफ तेजी से कार्रवाई सुनिश्चित करने तथा सजा दिलाने से ही पर्यटकों को पुन: आश्वस्त किया जा सकेगा। इसके अलावा ऐसी घटनाओं की पुनरावृत्ति रोकने के लिए किए गए हमारे प्रयासों से एक अच्छा संदेश भी जाएगा।


"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555




Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


Most read news


Loading...

Loading...