Salman Khan father Salim Khan Support MeToo Campaign in Bollywood

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

देश के बहुचर्चित देवघर चारा घोटाला केस में राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव के साथ ही अन्य दोषी को सजा सुनाकर सीबीआइ के विशेष न्यायाधीश शिवपाल सिंह बेहद चर्चा में हैं। न्यायप्रिय जज की छवि वाले शिवपाल सिंह को उनके घर उत्तर प्रदेश में ही न्याय की दरकार है। प्रदेश के जालौन के निवासी शिवपाल सिंह पैतृक जमीन के बीच से चक रोड निकाले जाने से बेहद परेशान हैं।

 

 

लालू प्रसाद यादव जैसे बेहद कद्दावर नेता को जेल भेजने वाले जज शिवपाल सिंह अपने घर यानी यूपी में ही न्याय पाने से वंचित हैं। न्यायाधीश शिवपाल के घर के लोग जालौन में अब न्याय पाने के लिए अधिकारियों के दरवाजे पर दस्तक दे रहे हैं। यहां पर प्रसाशनिक अधिकारियों की उदासीनता के कारण उन्हें न्याय नहीं मिल रहा है।

 

 

न्‍यायाधीश शिवपाल सिंह के साथ ही उनके परिवार के लोग न्याय के लिये जालौन में अधिकारियों के चक्कर लगा रहे हैं। तमाम प्रयासों के वावजूद भी उन्हें न्याय नहीं मिल पा रहा है। जज शिवपाल सिंह मूल रूप से जनपद जालौन के गांव शेखपुर खुर्द के निवासी हैं। अपनी पैतृक जमीन के बीचों-बीच चक रोड निकल जाने से वे परेशान हैं। इस मामले में वह यहां पर आकर कई बार जालौन के आला अधिकारियों के चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन अधिकारी उनकी समस्या पर तनिक भी गौर नहीं कर रहे हैं। जिससे जज और उनका परिवार परेशान है।

 

 

उनकी पैतृक जमीन से चक रोड निकाले जाने के मामले को लेकर में जज के भाई सुरेन्द्र पाल सिंह ने बताया कि मामला 2006 का है। उनके भाई शिवपाल एवं उनकी जमीन शेखपुर खुर्द में अराजी नंबर 15 और 17 में है। जिसके वह संक्रमणीय भूमिधर हैं। उनकी जमीन पर पूर्व प्रधान ने अपने कार्यकाल के दौरान बिना किसी अधिकार के चकरोड मार्ग बनवा दिया। सरकारी कागजों में चकरोड मार्ग गाटा संख्या 13 है

 

 

मामले को लेकर न्‍यायाधीश शिवपाल तथा उनके भाई सुरेंद्र पाल जिले के अधिकारीयों से न्याय की गुहार लगा चुके हैं, लेकिन उन्हें अभी तक न्याय नहीं मिला। सुरेन्द्र पाल ने कहा कि दूसरों को न्याय देने वाले उनके भाई को न्याय की दरकार है। यह मामला सामने आने के बाद जालौन उप जिलाधिकारी भैरपाल सिंह ने कहा कि मामला अभी उनके संज्ञान में आया है। इसकी जांच कराकर उचित कारवाई की जाएगी।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement