Golmal Starcast Will Be in Cameo in Ranveer Singh Simba

दि राइजिंग न्‍यूज

गाजियाबाद।

 

रविवार को आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या की जांच के दौरान हत्यारोपी को हथियार की आपूर्ति करने वाले संदिग्ध बदामाश की तलाश में गई पुलिस टीम पर गांव वालों ने ही हमला बोल दिया। ग्रामीणों ने पुलिस टीम पर फायरिंग भी की, जिसमें एक सिपाही को गोली लगी है। सिपाही की हालत गंभीर बताई जा रही है।

 

 

एनआइए को गाजियाबाद के थाना भोजपुर में स्थित गांव नहाली में एक बदमाश के होने की खुफिया जानकारी मिली थी। जानकारी के आधार पर एनआइए गाजियाबाद पुलिस के साथ रविवार को तड़के बदमाश को उठाने के लिए गांव में दबिश देने गई थी, लेकिन इस दौरान बड़ी संख्या इकट्ठा हुए गांव के पुरुषों और महिलाओं ने पुलिस टीम पर हमला कर दिया।

मौके का फायदा उठाकर ग्रामीणों के बीच से कुछ लोगों ने पुलिस पर फायरिंग भी की, इसके बाद ग्रामीणों ने पथराव शुरू कर दिया। ग्रामीणों ने पुलिस के काम को बाधित करने के उद्देश्य से कई जगहों पर रोड भी जाम कर दिया।

 

गाजियाबाद पुलिस और एनआइए के जवानों को भी आत्मरक्षा में गोलियां चलानी पड़ीं। गायिजाबाद पुलिस में कांस्टेबल तहजीब खान के पैर में गोली लगी है। पुलिस का एक वाहन भी क्षतिग्रस्त हो गया, मामले में गिरफ्तार किए गए दो संदिग्धों से पूछताछ की जा रही है।

 

 

आरएसएस नेता रविंदर गोसाईं की लुधियाना में की गई हत्या में इस्तेमाल हथियार की आपूर्ति करने के संदेह में एनआइए नहाली गांव के रहने वाले मलूक की तलाश है। मलूक की तलाश में एनआइए की टीम ने यूपी पुलिस के साथ शनिवार और रविवार की दरमियानी रात मेरठ में भी छापेमारी की थी।

इसके बाद इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। इस बीच बदमाश को गिरफ्तार किया जा सका या नहीं, अभी इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है। इलाके में स्थिति जरूर तनावपूर्ण बना हुआ है।

 

इसके बाद इलाके में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। इस बीच बदमाश को गिरफ्तार किया जा सका या नहीं, अभी इसकी जानकारी नहीं मिल सकी है। इलाके में स्थिति जरूर तनावपूर्ण बना हुआ है।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement