Kedarnath Crosses Rs 50 Crore Mark at Box Office

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

एलयू (लखनऊ यूनिवर्सिटी) में गुंडागर्दी समेत प्रदेश में कई आपराधिक वारदातों से नाराज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आला अफसरों को कड़ी फटकार लगाई। सीएम ने दो टूक कहा कि जो अफसर अपराध नहीं रोक पा रहे हैं, उन्हें हटा दिया जाए। उन्होंने अफसरों से अपराध पर तत्काल प्रभाव से नियंत्रण लाने को कहा।

मुख्‍यमंत्री ने राजधानी समेत प्रदेश में बढ़ते अपराध को लेकर गुरुवार रात ही प्रमुख सचिव गृह अरविंद कुमार व डीजीपी ओपी सिंह समेत अन्य अफसरों को अपने आवास पर तलब किया था। कानून-व्यवस्था पर सीएम के तमतमाए चेहरे को देखकर अफसरों के होश उड़ गए।

कानून-व्‍यवस्‍था से संतुष्‍ट नहीं मुख्‍यमंत्री  

सीएम योगी ने प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी से कहा कि अपराध से जिलों में तैनात अफसरों की नाकामी सामने आ रही है। बाद में दोनों अफसरों ने प्रदेश में पिछले दिनों हुई संगीन वारदात और उनके खुलासे के लिए उठाए गए कदमों की जानकारी दी। हालांकि, सीएम इससे संतुष्ट नहीं हुए।

नाकाम अफसरों की सूची तैयार करने को कहा

नाराज मुख्‍यमंत्री ने विभिन्न जिलों के नाकाम अधिकारियों के नाम गिनाए। इनमें लखनऊ के एसएसपी दीपक कुमार का नाम भी था। सूत्रों के अनुसार सीएम ने प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी दोनों से ऐसे अफसरों के नाम की सूची तैयार करने को कहा, जो आपराधिक वारदातों पर नियंत्रण करने में नाकाम साबित रहे।

सीएम ने दागे ये सवाल

  • अफसर अपराध पर काबू क्यों नहीं कर पा रहे हैं?

  • लगातार हो रही आपराधिक वारदात पर रोक क्यों नहीं लग रही? समय रहते अपराधों का खुलासा क्यों नहीं हो पा रहा?

  • राजधानी की कानून-व्यवस्था की इस दशा के लिए कौन अफसर जिम्मेदार हैं?

https://www.therisingnews.com/?utm_medium=thepizzaking_notification&utm_source=web&utm_campaign=web_thepizzaking&notification_source=thepizzaking

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement