Mahi Gill Regrets Working in Salman Khan Film

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 2019 लोकसभा चुनाव को लेकर बड़ा दावा किया है। उन्‍होंने कहा है कि हर ठोकर आदमी को आगे के लिए संभलने की नसीहत देती है। अब नए सिरे से तैयारी करेंगे। योगी ने शनिवार को लखनऊ में एक संवाद में कहा कि 2007 और 2012 में अकेले अपने-अपने दम पर सरकार बनाने वाली सपा तथा बसपा की सांसें 2018 आते-आते फूल गईं। उन्हें भाजपा को रोकने के लिए एक-साथ खड़े होने पर मजबूर होना पड़ा। यह भी हमारी जीत है।

राहुल भी छोड़ेंगे यूपी

सीएम योगी ने कहा कि सपा व बसपा का गठजोड़ ही नहीं, राहुल व कांग्रेस भी इसके साथ खड़े हो जाएं तो भी भाजपा 2019 में यूपी की सभी 80 सीटें जीतेगी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को भी यूपी से पलायन कर किसी सुरक्षित सीट पर जाना होगा।

उन्होंने कहा कि राहुल भाजपा के लिए बहुत शुभ हैं। वे जहां-जहां जाते हैं, वहां कांग्रेस और उसके गठबंधन का सफाया हो जाता है। उपचुनाव में भी राहुल प्रचार के लिए आते तो भाजपा जीत जाती।

मुलायम सिंह पर भी साधा निशाना

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि सपा व बसपा का मूल्यों, आदर्शों एवं सिद्धांतों से जुड़ाव नहीं है। इनका एक ही लक्ष्य है निजी स्वार्थ के लिए सत्ता हथियाना। इसलिए गठबंधन स्थायी नहीं रहेगा। योगी ने चुटकी ली कि उन्हें तो मुलायम सिंह यादव के बयान का इंतजार है जब वे कहेंगे, मायावती और अखिलेश गठबंधन के नेता हैं, हम गठबंधन के महानेता हैं।

अयोध्‍या विवाद पर भी बोले

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए श्रीश्री रविशंकर की पहल को समर्थन के सवाल पर योगी ने कहा कि वे न तो इसका समर्थन करते हैं, न विरोध। समझौते से श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण की बात 1983 से हो रही है, लेकिन हमेशा दोनों में से एक पक्ष भाग खड़ा होता है।

अब, जब सुप्रीम कोर्ट ने मामले की प्रतिदिन सुनवाई के लिए कहा है। कई अनावश्यक याचिकाएं खारिज कर दी हैं। भगवान से प्रार्थना कीजिए कि सुनवाई सही दिशा में चलती रहे। भगवान चाहेगा तो जल्द ही इस मामले का सकारात्मक समाधान सामने आ जाएगा।

न अल्पसंख्यक विरोधी, न बहुसंख्यक विरोधी

सीएम योगी ने कहा कि वे न तो अल्पसंख्यक विरोधी हैं न बहुसंख्यक विरोधी। उनकी सरकार के एक साल के कार्यकाल में किसी को भी मत, मजहब या उपासना के आधार पर प्रताड़ित नहीं किया गया। वह मुख्यमंत्री हैं और सबका साथ-सबका विकास की नीति पर काम कर रहे हैं।

ग्लोबस इन्वेस्टर्स समिट पर भी बोले

योगी ने कहा कि यूपी इन्वेस्टर्स समिट में 4.68 लाख करोड़ रुपये के निवेश के एमओयू हुए हैं। ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में 10 लाख करोड़ का निवेश आएगा। ऐसा पहली बार हो रहा है जब एमओयू के एक महीने के भीतर 25 हजार करोड़ के कार्यों की नींव इसी महीने रख दी जाएगी। अगले महीने फिर 25 हजार करोड़ के कार्यों का शिलान्यास होगा।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Loading...

Public Poll