These Women Film Directors Refuse to work with Proven Offenders

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में लगी मो. अली जिन्ना की तस्‍वीर का विवाद थमता नहीं दिख रहा। भाजपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य की टिप्पणी से छिड़ा विवाद अभी पूरी तरह शांत नहीं हुआ था कि उन्होंने जिन्ना को राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरकार वल्लभ भाई पटेल के समान बताकर नए विवाद को हवा दे दी।

दरअसल, रविवार देर शाम भाजपा नेता स्‍वामी प्रसाद मौर्य अंबेडकरनगर के इब्राहिमपुर थाना अंतर्गत एक गांव में वैवाहिक आयोजन में शिरकत करने आए हुए थे। अपने पूर्व के बयान पर सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि उनके पूर्व के बयान को मीडिया ने ही तोड़-मरोड़कर पेश किया था।

उन्‍होंने कहा, देश बंटवारे के समय विभाजन के मसौदे पर जहां जिन्ना के हस्ताक्षर हैं, वहीं पर नेहरू व सरदार पटेल के भी हैं। मौर्या ने कहा कि उन्होंने जिन्ना को कभी भी देश का महापुरुष नहीं कहा।

प्रदेश सरकार के वरिष्ठ मंत्री स्वामी प्रसाद ने सपा-बसपा के गठबंधन को मौकापरस्त बताया। उन्‍होंने कहा कि जनता के बीच यह गठबंधन सफल नहीं होगा। केंद्र व प्रदेश सरकार की विभिन्न उपलब्धियां भी उन्होंने विस्तार से गिनाईं। इस मौके पर भाजपा नेता रजनीश मौर्य व दिनेश आदि मौजूद रहे।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement