Home Up News AMU Professor Gives Divorce On Whatsapp

अमेरिका ने संबंध खराब किए, वही सुधारे: PAK विदेश मंत्रालय

सीएम अरविंद केजरीवाल का व्यवहार शहरी नक्सली जैसा: मनोज तिवारी

मध्यप्रदेश: आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन पर BJP MLA शैलेंद्र जैन के खि‍लाफ FIR

J-K: करीब 500 परिवारों को सुरक्षित जगह पर भेजा

PNB घोटाला: विक्रम कोठारी के बेटे राहुल को 1 दिन की ट्रांज़िट रिमांड पर भेजा

AMU प्रोफेसर ने व्हाट्सऐप पर दिया तीन तलाक!

UP | 13-Nov-2017 10:10:12 | Posted by - Admin
  • पीडि़ता ने लगाई पीएम-सीएम से मदद की गुहार
  • पति ने कहा- झूठे हैं आरोप
   
AMU Professor Gives Divorce on Whatsapp

दि राइजिंग न्‍यूज

अलीगढ़।

 

सुप्रीम कोर्ट ने भले ही एक साथ तीन तलाक को अवैध करार दे दिया हो, लेकिन मुस्लिम समाज में ऐसे भी कुछ लोग हैं जो इसका अभी भी धड़ल्ले से इस्तेमाल कर रहे हैं। ताजा उदाहरण अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग के प्रोफेसर ने पेश किया। उन्‍होंने अपनी पत्नी को व्हाट्सऐप के जरिए तलाक दे दिया। पीड़ित पत्नी अब मुख्यमंत्री से लेकर प्रधानमंत्री तक इंसाफ की गुहार लगा रही है।

 

 

 

तीन तलाक की शिकार महिला अब तक सदमे में है। 23 साल पुरानी शादी व्हाट्सऐप पर तलाक के तीन लफ्जों के आगे टूट गई। महिला का शौहर कोई मामूली शख्स नहीं बल्कि अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत विभाग के चेयरमैन हैं, जिनका नाम प्रोफेसर खालिद बिन यूसुफ है। इन पर उनकी पत्नी यासमीन खालिद ने व्हाट्सएप के जरिए ट्रिपल तलाक देने का आरोप लगाया है। यासमीन का कहना है कि अगर उन्हें न्याय नहीं मिला तो वो अपने बच्चे के साथ आत्महत्या कर लेंगी, लेकिन सोमवार को खालिद बिन यूसुफ ने अपने बचाव में बयान दिया है। उन्होंने कहा कि उन्होंने कभी भी अपनी पति को तीन तलाक दिया ही नहीं, उन पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं।

 

एक न्यूज एजेंसी को दिए बयान में प्रो. यूसुफ ने कहा, “मैंने उसे ट्रिपल तलाक नहीं दिया। मैंने उसे मौखिक तौर पर तलाक दिया जिसके बाद एसएमएस और व्हाट्सएप के जरिए उसे यह लिख कर भी भेजा। इसके एक महीने बाद फिर से उसे तलाक मौखिक रूप से बोला और फिर से एसएमएस और व्हाट्सएप के जरिए भेज दिया, लेकिन मैंने उसे तीसरी बार तलाक अभी तक नहीं बोला है, ऐसे में वो अभी भी मेरी पत्नी है।”

 

 

शौहर बीवी के रिश्तों की फाइलें पुलिस से लेकर महिला थाने तक घूमती रही हैं। कई दफा प्रोफेसर को पुलिस ने तलब भी किया, लेकिन वो नहीं आए और आया तो तलाक का परवान। मामला घरेलू विवाद की शक्ल में पुलिस तक पहुंचा था, लेकिन अब पत्नी का कहना है कि इंसाफ नहीं मिला तो वो मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री तक शिकायत करेंगी।

 

 

अलीगढ़ के एसएसपी राजेश कुमार पांडेय ने कहा कि पुलिस को मामले की जानकारी है। इस बात की जांच की जा रही है कि कौन सी धारा लगाई जाए। व्हाट्सऐप और मोबाइल पर तीन तलाक की घटना ने अलीगढ़ यूनिवर्सिटी में हड़कंप मचा दिया है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news