Home Up News Allahabad High Court Stays Hearing Of Criminal Case Against Nirmal Baba

योगी: राम मंदिर पर अपना रुख साफ करें राहुल गांधी

पीएम मोदी की नकल करते हैं राहुल गांधी: मुख्तार अब्बास

जम्मू के डोडा जिले में ताजा बर्फबारी, उत्तराखंड केदारनाथ धाम में भी 2 इंच बर्फबारी

श्र‍ीनगर पुलिस ने 3 संदिग्ध को किया गिरफ्तार, 13,63,500 पुराने नोट बरामद

चेन्नई में घने कोहरे के चलते दो विमानों को बंगलुरु डायवर्ट किया गया

निर्मल बाबा को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत

UP | 07-Dec-2017 10:20:34 | Posted by - Admin
   
Allahabad High Court Stays Hearing of Criminal Case Against Nirmal Baba

दि राइजिंग न्‍यूज

इलाहाबाद।

 

विवादित आध्यात्मिक गुरु निर्मलजीत सिंह नरूला उर्फ निर्मल बाबा को इलाहाबाद हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है। हाईकोर्ट ने निर्मल बाबा व सुषमा नरूला के खिलाफ मेरठ की एसीजेएम कोर्ट में धोखाधड़ी के आरोप में कायम मुकदमे की सुनवाई की प्रक्रिया पर रोक लगा दी है।

 

 

अदालत ने इस मामले में शिकायतकर्ता हरीश सिंह समेत यूपी सरकार व अन्य विपक्षियों को नोटिस जारी कर उनसे जवाब दाखिल करने को कहा ह। अदालत ने इन सभी को जवाब दाखिल करने के लिए छह हफ्ते की मोहलत दी है। हाईकोर्ट में इस मामले की अगली सुनवाई छह फरवरी को होगी।

यह आदेश न्यायमूर्ति ओम प्रकाश ने सुषमा नरूला व अन्य की याचिका पर दिया है। याचिका पर वरिष्ठ अधिवक्ता एम डी सिंह शेखर व राज्य सरकार के अपर महाधिवक्ता विनोद कान्त व ए जी ए निखिल चतुर्वेदी ने पक्ष रखा।

 

 

निर्मल बाबा पर आरोप है कि उन्होंने कहा था कि पीड़ित खीर बनाकर खाये व उसे दूसरे लोगों में भी बांटे। ऐसा करने के बावजूद फायदा होने के बजाय वह बीमार हो गया, जिस पर उसने इस्तगासा दायर किया।

इस मामले में मजिस्ट्रेट ने सम्मन जारी किया है, जिसे याचिका में चुनौती दी गयी है। याची का कहना है कि विपक्षी ने इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के खिलाफ केस दर्ज कराया है। केवल चर्चा में आने व अनुचित रूप से धन उगाही करने के लिए वह फर्जी केस कायम करता है। वह फर्जी मुकदमा दर्ज करने का आदी है।

 

 

जबकि विपक्षी ने आरोप लगाया है कि निर्मल बाबा के निर्देशों का पालन करने से उसे फायदा होने के बजाय नुकसान हुआ और उसकी तबीयत बिगड़ गई। अदालत ने निर्मल बाबा व उसकी पत्नी के खिलाफ मेरठ की अदालत में चल रहे मुकदमे की सुनवाई पर रोक लगा दी।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news