Pregnant Actress Neha Dhupia Shares Her Opinion on Pregnancy

दि राइजिंग न्‍यूज

मैनपुरी।

 

एक बार फिर पूर्व मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव ने सरकारी बंगले में तोड़फोड़ के आरोप पर चुप्पी तोड़ी है। योगी सरकार पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि उनपर टोंटी खोलने का आरोप लगाया जा रहा है। पू्र्व सीएम ने कहा कि फिलहाल वह लखनऊ से बाहर हैं और वापस लौटते ही सबसे पहले टोंटी खरीद कर भिजवा देंगे।

अधिकारी जान लें सरकारें आती-जाती रहती हैं

उन्होंने अधिकारियों पर भी निशाना साधा और चेतावनी भरे लहजे में कहा कि अधिकारी जान लें सरकारें आती-जाती रहती हैं। हमने बहुत से अधिकारियों को कप प्लेट उठाते देखा है। हम सरकार से चाहेंगे कि वह बताए कि बंगले में क्या-क्या टूटा है।

अखिलेश का बीजेपी पर पलटवार

अखिलेश ने कहा, अखबार लिख रहे हैं कि हम टोटी ले गए। बीजेपी सरकार को जो टोंटी चाहिए, मैं भिजवाने को तैयार हूं। अभी दो दिन सैफई में हूं, दो दिन बाद लखनऊ जाऊंगा, बताकर जाऊंगा। जो टोंटी अच्छी होगी दे दूंगा। कह रहे हैं आवास में तोड़फोड़ कर दी है। हमारा समान था, ले गए। अगर आप का एक भी सामान हमने लिया है तो सूची भिजवा देना, इसी एक्सप्रेसवे से सामान भिजवा देंगे।

यही नहीं, अखिलेश ने तंज कसते हुए कहा कि अगर मैं वाइट हाउस में रहता था तो बाकी क्या ब्लैक हाउस में रहते हैं। बीजेपी पर वार करते हुए अखिलेश ने कहा कि हमारा घर खाली करा दिया। नेता जी का भी करा दिया। हमारा नया गठबंधन बना है, बसपा नेता का भी घर खाली करा दिया।

पार्टी भी उतरी बचाव में

इस बीच अखिलेश यादव के बचाव में पार्टी भी कूद पड़ी है। बंगले में तोड़फोड़ के आरोपों को खारिज करते हुए समाजवादी पार्टी ने उलटा सरकार पर पूर्व सीएम को बदनाम करने की साजिश रचने का आरोप लगा दिया। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील राजन ने कहा कि उपचुनाव में हार की खीज मिटाने के लिए बीजेपी द्वारा तोड़फोड़ कराई गई।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement