Home Up News 13 Accused Arrested In High Court Group D Recruitment Paper Leaked

चेन्नई: पत्रकारों ने बीजेपी कार्यालय के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

मुंबई: ब्रीच कैंडी अस्पताल के पास एक दुकान में लगी आग

कर्नाटक के गृहमंत्री रामालिंगा रेड्डी ने किया नामांकन दाखिल

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने हथियारों के साथ 3 लोगों को किया गिरफ्तार

11.71 अंक गिरकर 34415 पर बंद हुआ सेंसेक्स, निफ्टी 10564 पर बंद

हाईकोर्ट ग्रुप-D भर्ती पेपर लीक मामले में 13 गिरफ्तार

UP | 13-Nov-2017 12:25:13 | Posted by - Admin
  • एसटीएफ ने किया गिरफ्तार
  • इन तीन तरीकों से करते थे पेपर लीक
   
13 Accused Arrested in High Court Group D Recruitment Paper Leaked

दि राइजिंग न्‍यूज

लखनऊ।

 

इलाहाबाद हाईकोर्ट की तरफ से आयोजित ग्रुप-डी भर्ती परीक्षा का पेपर रविवार को लीक हो गया, जिसमें 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया। गोरखपुर के एक सेंटर में परीक्षा करा रहे कॉलेज मैनेजर ने ही पेपर की फोटो खींचकर वॉट्सऐप से गैंग सरगना को भेज दी। एसटीएफ ने गैंग लीडर, छह सॉल्वरों और चार अभ्यर्थियों समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया है।

एएसपी एसटीएफ अरविंद चतुर्वेदी ने बताया, हाईकोर्ट ग्रुप-डी भर्ती परीक्षा का पेपर लीक करने वाले गैंग की सूचना 10 नवंबर को मिली थी।

 

 

एसटीएफ सूत्रों के अनुसार, पेपर लीक में गोरखपुर में दो केंद्रों के मैनेजर, कुछ दलाल और कैंडिडेट्स शामिल हैं। इसकी जानकारी मिलने पर परीक्षा करवा रही चेन्नै की एजेंसी सतव्रत से संपर्क कर संदिग्धों की सूची निकलवाई गई। इसी दौरान एसटीएफ ने गैंग लीडर सिराजुद्दीन को गोरखपुर में पकड़ लिया। पूछताछ में उसने बताया, "शाहपुर में गंगानगर के बापू इण्टर कॉलेज में राम प्रवेश की जगह अमित कुमार नाम का सॉल्वर परीक्षा दे रहा है। अमित को रंगे हाथ पकड़ लिया गया।"

 

 

सिराजुद्दीन से ही यह भी पता चला कि बी एम मेमोरियल पब्लिक कॉलेज के मैनेजर संजय सिंह ने उसके मोबाइल पर ग्रुप-डी परीक्षा का पेपर वॉट्सऐप से भेजा था। उसकी निशानदेही पर मैनेजर संजय सिंह और कक्ष निरीक्षक अभिषेक सिंह को पकड़ा गया।

 

 

ये हुए गिरफ्तार

संजय सिंह (कॉलेज मैनेजर), अभिषेक सिंह (कक्ष निरीक्षक), राहुल कुमार, अमित कुमार, गोविंद कुमार, चंदन, मुबारक अली, रामप्रवेश, सिराजुद्दीन (गैंग का लीडर), संदीप कुमार, रजीउल्लाह, मन्नु और श्याम सिंह।

 

 

इन तरीकों से परीक्षा में लगाते थे सेंध

  • ओएमआर सीट को कई जगह पर खाली छोड़ा जाए। कॉलेज मैनेजर से सांठ-गांठ कर खाली जगहों पर जवाब भरे जाएं।
  • कैंडिडेट्स की जगह सॉल्वर बैठाए।
  • एग्जाम सेंटर पर व्हाट्सऐप के जरिए पेपर लीक। सॉल्वर पेपर को सॉल्व कर ब्लूट्रूथ से अंदर भेज दें।

 

 

परीक्षा में पास कराने के नाम पर चार लाख वसूले

4386 पदों के लिए हुई इस परीक्षा में 50 हजार से ज्यादा लोग शामिल हुए थे। बताया जा रहा है कि परीक्षा में पास कराने के नाम पर चार लाख रुपए तक वसूले गए थे।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll

Merchants-Views-on-Yogi-Government-One-Year-Completion




Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news