Home Up News Two Teens Died After A Road Accident In Saharanpur

बिहार म्यूजियम के डिप्टी डायरेक्टर ने डायरेक्टर से की मारपीट

मायावती के बयान से साफ, गठबंधन बनेगा- अखिलेश यादव

कश्मीरः पूर्व मंत्री चौधरी लाल सिंह के भाई को तलाश रही पुलिस, CM के अपमान का केस

गुजरातः आनंद जिले के पास सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत

देवेंद्र फडणवीस बोले, पिछले तीन साल में 7 करोड़ शौचालय बने

यूपी: पुलिसकर्मियों की संवेदनहीनता, गाड़ी गन्दी होने के डर से घायलों को अस्पताल नहीं पहुंचाया

UP | Last Updated : Jan 20, 2018 12:16 PM IST

 Two Teens Died After A Road Accident In Saharanpur


दि राइजिंग न्यूज़

मेरठ।

 

पुलिसकर्मियों की संवेदनहीनता गुरुवार रात हादसे में घायल दो किशोरों की जिंदगी पर भारी पड़ गई। बाइक खंभे से टकराने के बाद नाले में गिरकर घायल हुए किशोर तड़पते रहे और उन्हें अस्पताल ले जाने में गाड़ी गंदी न हो जाए इसलिए डायल सेवा 100 पर तैनात पुलिसकर्मी उन्हें अस्पताल नहीं ले गए।

 

बाद में पहुंची थाना पुलिस घायलों को लेकर जिला अस्पताल पहुंची, लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी और समय पर उपचार ना मिलने के कारण दोनों किशोरों ने दम तोड़ दिया। एसएसपी ने डायल 100 पर तैनात तीन पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया है।

यहां हुआ हादसा

हादसा यूपी के मेरठ जिले में हुआ। गुरुवार की रात करीब साढ़े 12 बजे ये एक्सीडेंट हुआ और मरने वाले अमित खुराना (17 वर्ष) पुत्र राकेश खुराना निवासी नुमाइश कैंप और सन्नी गुप्ता (15 वर्ष) पुत्र प्रवीण गुप्ता निवासी सेतिया बिहार थे। दोनों परिवार के इकलौते पुत्र थे।

 

हादसे के वक्त ये अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर बेरी बाग की ओर से मंगल नगर की ओर जा रहे थे। बताया जा रहा है कि मोटरसाइकिल काफी तेज गति में थी, अचानक उनकी बाइक एक खंभे से टकराई। दोनों हेलमेट भी नहीं लगाए हुए थे और खंभे व नाले दीवार से टकराने के बाद नाले में जा गिरे।

देखते रहे पुलिस कर्मी

दुर्घटना होने के बाद मौके पर लोगों की भीड़ लग गई। इसी दौरान वहां से गुजर रहे दोनों के एक दोस्त ने उन्हें देखा तो तुरंत 100 नंबर पर पुलिस को घटना की सूचना दी। सूचना मिलते ही डायल 100 की टीम मौके पर पहुंच गई। लेकिन उन्होंने कीचड़ और खून से लथपथ दोनों किशोरों को देखकर पुलिस कर्मियों ने अस्पताल ले जाने से इंकार कर दिया।

 

​डायल 100 पर तैनात तीनों पुलिस कर्मी सड़क पर पड़े तड़प रहे घायलों को देखते रहे। लेकिन उन्होंने अपनी गाड़ी में घायलों को अस्पताल ले जाने से इंकार करते हुए कहा कि उनकी गाड़ी गंदी हो जाएगी। थाना पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों घायलों को अस्पताल में पहुंचाया। लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।

 

 



" जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555 "


Loading...


Flicker News

Loading...

Most read news


Most read news


rising@8AM


Loading...