Uri Team Donate on One Crore Rupees to Pulwama Terrorist Attack Martyr Families

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

थाईलैंड की गुफा में पिछले 18 दिनों से फंसे 12 बच्चों और उनके एक कोच को सुरक्षित निकाल लिया गया है। उत्तरी थाईलैंड की बाढ़ग्रस्त गुफा में फंसे बच्चों को निकालने के लिए युद्ध स्तर पर अभियान छेड़ा गया था। मंगलवार दोपहर तक दो और बच्चों को निकाल लिया गया था, फिर शाम होते-होते शेष सभी फंसे लोगों को भी बाहर निकाल लिया गया। इससे पहले बचावकर्मियों ने सोमवार को भी चार और बच्चों को बाहर निकालने में कामयाबी हासिल की थी। इसके साथ ही यह बचाव अभियान पूरा हो गया। हालांकि इस अभियान के दौरान एक बचावकर्मी की मौत हो गई थी।

 

गुफा में 23 जून को 12 बच्चे और उनके फुटबॉल कोच फंसे हुए थे। बचाव अभियान के दौरान तेज बारिश के बावजूद गुफा के अंदर पानी के लेवल में कोई बदलाव नहीं आया, इसलिए ऑपरेशन जारी रखा गया। फंसे लोगों को निकालने के लिए 19 डाइवर्स को अंदर भेजा गया था। ऑपरेशन स्थानीय समय के अनुसार, सुबह 10:08 बजे (सुबह 8 बजे, भारतीय समयानुसार) शुरू हुआ। आज जब अभियान शुरू किया गया तो गुफा में फंसे पांच लोगों के अलावा डॉक्टर, 3 नेवी SEAL भी मौजूद थे।

थाम लौंग गुफा से रविवार को पहले सफल अभियान के दौरान चार बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था जबकि बचाव अभियान के दूसरे दिन सोमवार को चार और बच्चों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया था। बचाए गए बच्चों की पहचान नहीं बताई गई है। यह समूह भारी बारिश के कारण आई बाढ़ के कारण 23 जून को गुफा में फंस गया था, पिछले सप्ताह गोताखोरों ने इन्हें जिंदा पाया था।

 

रिपोर्ट के मुताबिक, थाई नौसेना सील ने बच्चों को बचाने की पुष्टि की है। पब्लिक टेलीविजन ने चियांग राई शहर में एक अस्पताल के नजदीक हेलीकॉप्टरों के उतरने का लाइव वीडियो प्रसारित किया है। हेलीकॉप्टरों के जरिए बचाए गए बच्चे अस्पताल लाए गए।

 

जिन गोताखोरों ने बच्चों के पहले समूह को बचाने का काम किया था, वही दूसरे अभियान में भी शामिल थे। अधिकारियों ने कहा कि हालात रविवार की तरह बेहतर बने हुए हैं और बारिश ने गुफा के जलस्तर को प्रभावित नहीं किया है।

 

इस बचाव अभियान के आधिकारिक प्रवक्ता नारोंगसाक ओसोतानाकोर्न ने रविवार रात संवाददाता सम्मेलन में कहा था कि बचाव टीमें सोमवार सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक अभियान में जुटेंगी।

उन्होंने कहा कि किसी भी तरह के संक्रमण से बचाने के लिए बच्चों को अभी उनके परिजनों से नहीं मिलाया गया है लेकिन इस पर विचार किया जा रहा है कि परिजन शीशे के पार से या दूर से उन्हें देख सकें।

 

पहले बच्चे को गुफा से रविवार शाम 5:40 बजे निकाला गया और दूसरे को उसके 10 मिनट बाद जबकि दो अन्य को दो घंटे से अधिक समय के बाद बाहर निकाला गया था।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement