Updates on Priyanka Chopra and Nick Jones Roka Ceremony

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

राज्यसभा के उपसभापति चुनाव के लिए सत्तारूढ़ एनडीए और विपक्ष के बीच खींचतान शुरू हो गई है। सूत्रों के मुताबिक जहां एक ओर एनडीए ने जेडीयू के सांसद हरिवंश को उम्मीदवार बनाया है, तो दूसरी ओर विपक्ष ने एनसीपी की वंदना चव्हाण को अपना उम्मीदवार घोषित किया है। वंदना चव्हाण को संयुक्त उम्मीदवार बनाकर कांग्रेस एक तरफ जहां अपनी सहयोगी एनसीपी को खुश करना चाहती है तो वहीं उसे इस बात का भी भरोसा है कि एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार अपने सियासी रसूख का इस्तेमाल कर इस चुनाव में बीजद का समर्थन हासिल कर लेंगे। इसी प्रकार जदयू के हरिवंश सिंह को सरकार की ओर से संयुक्त उम्मीदवार बनाकर भाजपा राजग कुनबे को एक रखने की कोशिश में है।

 

राज्यसभा के उपसभापति के लिए चुनाव नौ अगस्त को होना है। इसके लिए राजनीतिक दल पुरजोर तरीके से तैयारी में जुट हुए हैं। वहीं, इस उम्मीदवारी पर NDA में फूट पड़ती दिख रही है, लेकिन जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार ने अन्य दलों से समर्थन मांगना शुरू कर दिया है। नीतीश ने इस मसले पर तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) से बात की। उन्होंने केसीआर से फोन पर बात की और हरिवंश को समर्थन करने की बात कही। केसीआर ने उनको आश्वासन दिया कि वो अपनी पार्टी के नेताओं और साथियों से बात करने के बाद ही इस मामले में फैसला लेंगे।


 

NDA में पड़ी फूट!

राज्यसभा में उपसभापति के लिए एनडीए की तरफ से उम्मीदवार जेडीयू सांसद हरिवंश को बनाए जाने से एनडीए की दो सबसे पुरानी सहयोगी पार्टियां अकाली दल और शिवसेना नाराज हैं। दरअसल, अकाली दल को उम्मीद थी कि राज्यसभा में एनडीए का उपसभापति का उम्मीदवार उनका होगा। बता दें कि अकाली दल से नरेश गुजराल का नाम चर्चा में था, लेकिन अंतिम समय पर बीजेपी ने जेडीयू के सांसद हरिवंश को उम्मीदवार बना दिया, जिससे अकाली दल में नाराजगी हैं। इसे लेकर पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल की अध्यक्षता में अकाली दल के संसदीय दल की बैठक केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के घर पर हुई।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll