Ali Asgar Faced Molestation in The Getup of Dadi

दि राइजिंग न्यूज़

नई दिल्ली।

 

राज्यसभा में उपसभापति के उम्मीदवार को लेकर एनडीए में घमासान शुरू हो गया है। राज्यसभा में उपसभापति के लिए एनडीए की तरफ से जेडीयू सांसद हरिवंश को उम्मीदवार बनाये जाने से गुट की दो सबसे पुरानी सहयोगी पार्टियां अकाली दल और शिवसेना नाराज हैं।

 

अकाली दल को ये थी उम्मीद

दरअसल, अकाली दल को उम्मीद थी राज्यसभा में एनडीए का उपसभापति का उम्मीदवार उनका होगा। बता दें कि अकाली दल से नरेश गुजराल का नाम चर्चा में था लेकिन अंतिम समय पर बीजेपी ने जेडीयू के सांसद हरिवंश को उम्मीदवार बना दिया जिससे अकाली दल में नाराजगी हैं। जिसे लेकर पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबिर सिंह बादल की अध्यक्षता में अकाली दल के संसदीय दल की बैठक केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल के घर पर हुई।

सूत्रों की मानें तो अकाली दल 9 अगस्त को राज्यसभा के उपसभापति के चुनाव में गैरहाजिर भी रह सकती है। सुखबीर बादल ने बुधवार को एक बार फिर अपनी पार्टी की संसदीय दल की बैठक बुलाई है। इस बीच सूत्रों के हवाले से खबर है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अकाली दल के प्रमुख प्रकाश सिंह बादल और सुखबीर सिंह बादल से भी बात की है लेकिन अमित शाह के फोन पर बात करने बाद भी सूत्रों का कहना हैं कि बुधवार 10 बजे पार्टी की संसदीय दल की बैठक में कोई बड़ा फैसला हो सकता है।

 

शिवसेना भी नाराज़

सूत्रों की मानें तो शिवसेना भी इस बात से नाराज़ है कि पहले जब अकाली दल के सांसद नरेश गुजराल का नाम एनडीए के उम्मीदवार के तौर पर लगभग तय था तो अंतिम समय में जेडीयू सांसद हरिवंश के नाम की घोषणा वो भी बिना चर्चा के क्यों की गई। शिवसेना वैसे भी 2019 का चुनाव वो बीजेपी के साथ न लड़ने की घोषणा कर चुकी है।

सूत्रों की मानें तो अकाली दल और शिवसेना की नाराज़गी के बाद बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने एनडीए के सभी सहयोगी दलों के प्रमुख नेताओं से राज्यसभा के उपसभापति के उम्मीदवार जेडीयू सांसद हरिवंश के नाम पर आम सहमति बनाने के लिए बनाने के लिए फोन पर चर्चा  कर रहे हैं। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने फोन पर रामविलास पासवान और चिराग पासवान से राज्यसभा में उपसभापति उम्मीदवार के लिए जेडीयू सांसद हरिवंश के नाम को लेकर चर्चा की। रामविलास पासवान और चिराग पासवान ने राज्यसभा के उपसभापति के उम्मीदवार के जेडीयू सांसद हरिवंश के नाम का स्वागत किया है। गौरतलब है कि रामविलास पसवान की पार्टी का एक भी सांसद राज्यसभा में नहीं है। फिर भी अमित शाह लोजपा नेता से बात कर इस मुद्दे पर एनडीए को एकजुट रखने का प्रयास कर रहे हैं।

 

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement