Updates on Priyanka Chopra and Nick Jones Roka Ceremony

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

आज पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। बुधवार को नागपुर पहुंचने पर आरएसएस के स्वयंसेवक उन्हें लेने पहुंचे। पिता प्रणब मुखर्जी के आरएसएस कार्यक्रम में शामिल होने से उनकी बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी नाखुश हैं। उन्होंने प्रणब मुखर्जी को नसीहत दी है।

नकली बयानों को किया जाएगा प्रसारित

शर्मिष्ठा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि उम्मीद है आज की घटना के बाद प्रणब मुखर्जी इस बात को मानेंगे कि बीजेपी किस हद तक गंदा खेल कर सकती है। यहां तक ​​कि आरएसएस भी इस बात पर विश्वास नहीं करेगा कि आप अपने भाषण में उनके विचारों का समर्थन करेंगे। उन्होंने कहा कि भाषण तो भुला दिया जाएगा, लेकिन तस्वीरें बनी रहेंगी और उनको नकली बयानों के साथ प्रसारित किया जाएगा।

बीजेपी से जुड़ने की अफवाह फैलाई गई

बता दें ऐसी खबरें सामने आ रही थीं कि शर्मिष्ठा बीजेपी से जुड़ सकती हैं। इन्हीं खबरों का जिक्र करते हुए शर्मिष्ठा ने कहा कि बीजेपी किस हद तक गंदा खेल कर सकती है। शर्मिष्ठा के मुताबिक उनकी बीजपी से जुड़ने की अफवाह फैलाई गई।

उन्होंने पिता को नसीहत देते हुए आगे लिखा कि नागपुर जाकर आप बीजेपी और आरएसएस को फर्जी कहानियां बनाने, जैसे आज उन्होंने अफवाह फैलाई, वैसी अफवाह फैलाना और उसको सही तौर पर मनवाने का मौका दे रहे हैं। अभी तो ये शुरुआत है।

कांग्रेस के कई नेता भी दे चुके हैं प्रणब के विरोध में बयान

प्रणब के नागपुर में आरएसएस मुख्यालय जानने से सिर्फ उनकी बेटी शर्मिष्ठा नाखुश नहीं हैं। कांग्रेस के कई नेता भी प्रणब के विरोध में बयान दे चुके हैं। वहीं बुधवार को इन कांग्रेसी नेताओं की बयानबाजी के जवाब में आरएसएस के थिंक-टैंक कहे जाने वाले मनमोहन वैद्य ने एक लेख लिखा। इसमें उन्होंने प्रणब के विरोध को कांग्रेस का बैद्धिक आतंकवाद करार दिया है।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll