These Women Film Directors Refuse to work with Proven Offenders

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी को एक और झटका लगा है। दरअसल, नीति आयोग में विशेष आमंत्रित सदस्य पद से उनकी छुट्टी कर दी गई है। स्मृति ईरानी जब मानव संसाधन विकास मंत्री बनी थीं तभी से नीति आयोग की सदस्य थीं। उनका मंत्रालय बदल जाने के बावजूद भी नीति आयोग में विशेष आमंत्रित सदस्य का उनका पद बरकरार था।

एक खबर के मुताबिक स्मृति ईरानी की जगह प्रकाश जावड़ेकर को इस पद के लिए आमंत्रित किया गया है। दिलचस्प ये है कि प्रकाश जावड़ेकर वर्तमान में मानव संसाधन विकास मंत्री भी हैं। इसके अलावा राव इंद्रजीत सिंह को नीति आयोग के पूर्व सदस्य के तौर पर नियुक्त किया गया है।

17 जून को है गवर्निंग काउंसिल मीटिंग

यह फैसला ऐसे समय में लिया गया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आगामी 17 जून को गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग करने वाले हैं। बता दें कि बीते 15 मई को ही स्मृति ईरानी से सूचना प्रसारण मंत्रालय वापस ले लिया गया था। स्मृति अब सिर्फ कपड़ा मंत्रालय ही देख रही हैं।

सांसद निधि के दुरुपयोग के भी लगे हैं आरोप  

हाल ही में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी पर सांसद निधि के दुरुपयोग का आरोप भी लगा है। यह गंभीर आरोप गुजरात कांग्रेस के अध्यक्ष अमित चावड़ा ने लगाए थे। कांग्रेस विधायक अमित चावड़ा ने अपने ट्वीट में लिखा था, स्मृति ईरानी ने आणंद जिले के माघरोल गांव को मॉडल बनाने के लिए गोद लिया था और उन्होंने इसे भ्रष्टाचार और सत्ता के दुरुपयोग का बेहतरीन मॉडल बनाने का काम किया है।

अमित चावड़ा ने एक और ट्वीट में स्मृति ईरानी पर अपनी सांसद निधि के दुरुपयोग का भी आरोप लगाया है। गुजरात से राज्यसभा सांसद स्मृति ईरानी पर चावड़ा ने आरोप लगाया, स्मृति ईरानी और उनके स्टाफ ने शारदा मजूर कामदार सहकारी मंडली को ठेका देने के लिए अधिकारी को मजबूर किया।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement