Arjun Kapoor and Malaika Arora Affair Updates

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

रविवार को केंद्रीय मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह ने पार्टी अध्यक्ष अमित शाह को कैबिनेट और राज्यसभा से इस्तीफा देने की पेशकश की है। बताया जाता है चौधरी ने ये फैसला उनके बेटे बृजेन्द्र सिंह को हरियाणा के हिसार से लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए टिकट मिलने के मद्देजनर लिया है।

चौधरी बीरेंद्र सिंह के मुताबिक, बीजेपी चुनाव में वंशवादी शासन के खिलाफ है। इसलिए मैंने यह सही समझा कि अगर मेरे बेटे को मौका मिलता है तो मुझे राज्यसभा और मंत्रीपद से इस्तीफा दे देना चाहिए। इसलिए मैंने अमित शाह जी को लिखा है कि मैं इसे पार्टी पर छोड़ता हूं, मैं इस्तीफा देने के लिए तैयार हूं।

बता दें कि बीजेपी ने रविवार को लोकसभा चुनाव 2019 के मद्देनजर 20वीं सूची जारी की है। इसमें हरियाणा, मध्य प्रदेश और राजस्थान में 6 उम्मीदवारों के नाम हैं। इस सूची में में हरियाणा के हिसार से बृजेंद्र सिंह, रोहतक से अरविंद शर्मा को टिकट दिया गया है। वहीं, मध्य प्रदेश के खजुराहो से बिष्णु दत्त शर्मा, रतलाम से जीएस दामोर, धार से छत्तर सिंह दरबार और राजस्थान के दौसा से जसकौर मीणा को टिकट दिया है। साथ ही उलुबेरिया पुरबा विधानसभा क्षेत्र (पश्चिम बंगाल) उपचुनाव के लिए प्रत्यूष कुमार मंडल का नाम भी शामिल किया गया है।

 

 

हरियाणा के एक प्रमुख जाट नेता हैं चौधरी बीरेंद्र सिंह

केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी बीरेंद्र सिंह हरियाणा के एक प्रमुख जाट नेता हैं। वे 1977, 1982, 1994, 1996 और 2005 में उचाना से विधायक रह चुके हैं। साथ ही तीन बार प्रदेश सरकार में मंत्री रहे हैं। वे हिसार लोकसभा क्षेत्र से 1984 में ओमप्रकाश चौटाला को हराकर संसद पहुंचे थे।

2010 में वे कांग्रेस से राज्यसभा सदस्य बने थे, लेकिन 2014 में कांग्रेस से 42 साल पुराना नाता तोड़कर राज्यसभा से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद बीजेपी का दामन थामा था। बीजेपी 2016 में उन्हें दोबारा राज्यसभा भेजा था। 5 जुलाई, 2016 को कैबिनेट फेरबदल में इस्पात मंत्री के रूप में पदभार संभाला।

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement