Anushka Sharma Sui Dhaaga Memes Viral on Social Media

दि राइजिंग न्यूज़

चेन्नई।

 

तमिलनाडु के पूर्व मुख्यमंत्री और द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता एम. करुणानिधि के निधन के बाद तमिलनाडु समेत पूरे देश में शोक की लहर है। राज्य में एक दिन का अवकाश और सात दिन का शोक घोषित किया गया है। उनके पार्थिव शरीर को तिरंगे में लपेटकर रखा गया है। देश के तमाम बड़े नेता उनके अंतिम दर्शन को पहुंच रहे हैं। अभिनेता रजनीकांत भी श्रद्धांजलि देने पहुंचे।

 

करुणानिधि 29 जुलाई से चेन्नई के कावेरी अस्पताल के इंटेंसिव केयर यूनिट (आईसीयू) में भर्ती थे। अस्पताल की ओर से जारी बयान में कहा गया कि करुणानिधि की उम्र के हिसाब से उनके शरीर के सभी ऑरगन्स काम करना बंद कर दिए थे। राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, उप राष्ट्रपति सहित तमाम नेताओं ने मंगलवार को द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (द्रमुक) नेता एम। करुणानिधि के निधन पर शोक जताया।

तमिलनाडु सरकार ने बताया कि तिरंगा आधा झुका रहेगा और सारे सरकारी कार्यक्रम रद्द रहेंगे। सभी सरकारी प्रतिष्ठान, स्कूल और कॉलेज आज बंद रहेंगे। मुख्य सचिव ने बताया कि सरकार ने करुणानिधि के अंतिम संस्कार को लेकर बुधवार को छुट्टी घोषित की है। उनका पार्थिव शरीर अति विशिष्ट और आमजनों के अंतिम दर्शन के लिए राजाजी हॉल में रखा जाएगा।

मुख्य सचिव ने बताया कि करुणानिधि का अंतिम संस्कार राजकीय सम्मान के साथ किया जाएगा और पार्थिव शरीर तिरंगे में लिपटा होगा। पलानीस्वामी ने निर्देश दिया है कि राज्य गजट में शोक संदेश प्रकाशित किया जाए। करूणानिधि के निधन के बाद राजकीय शोक के पहले दिन सभी सिनेमाघर और पेट्रोल पंप बद रहेंगे।

तमिल फिल्म प्रोड्यूसर्स काउंसिल के अध्यक्ष विशाल कृष्णने बताया कि बुधवार को फिल्मों की शूटिंग, रिलीज और फिल्म शो सहित सभी कार्यक्रम पूरे राज्य में बंद रहेंगे। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने ट्वीट करते हुए कहा, कलैगनार एम. करुणानिधि के निधन से बहुत दुखी हूं। 60 वर्ष तक विधायक, पांच बार मुख्यमंत्री और केंद्र में कई गठबंधनों के स्तंभ के तौर पर उन्होंने प्रदेश और राष्ट्रीय राजनीति पर जिस तरह प्रभाव जमाए रखा वैसा कुछ ही कर सके हैं। उनके परिवार और प्रशंसकों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। वे बहुत याद आएंगे।

उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने करुणानिधि को प्रमुख और लंबे समय तक राजनीति करने वाले ऐसे राजनीतिज्ञों में से एक बताया जिन्होंने देश पर अपनी अमिट छाप छोड़ी है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने द्रमुक प्रमुख के निधन पर शोक प्रकट किया। केजरीवाल ने ट्वीट किया, "महान नेता के निधन की खबर सुनकर बहुत दुखी महसूस कर रहा हूं। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे। यह देश के लिए बहुत बड़ा नुकसान है।"

मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) नेता सीताराम येचुरी ने ट्वीट किया, "कलैगनार करुणानिधि अपने पीछे भारतीय और तमिलनाडु राजनीति को विकसित करने के लिए अपनी लगभग सात दशकों की समृद्ध विरासत छोड़ गए हैं। वे सामाजिक न्याय और पिछड़ों तथा गरीबों की आवाज उठाने वाले राजनीतिक और बुद्धिजीवी नेता के तौर पर उभरे थे।"

जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555

दि राइजिंग न्यूज़

Suggested News

Advertisement

Public Poll

Readers Opinion