Home Top News Terrorist Zakir Musa Ran With The Help Of Stonepelters

राहुल गांधी के इंटरव्यू पर बीजेपी ने चुनाव आयोग से की शिकायत

राजस्थान: भारत-ब्रिटेन की सेना ने बीकानेर में किया संयुक्त युद्धाभ्यास

PM मोदी कल मुंबई में नेवी की पनडुब्बी INS कावेरी को देश को समर्पित करेंगे

पंजाब: STF ने लुधियाना से 3 ड्रग तस्करों को किया गिरफ्तार

पटना: मगध महिला कॉलेज में जींस, मोबाइल और पटियाला ड्रेस पर बैन

पत्थरबाजों ने फिर बचाया आतंकी जाकिर मूसा को...

Home | 12-Aug-2017 10:05:21 AM | Posted by - Admin

   
Terrorist Zakir Musa ran with the help of Stonepelters

दि राइजिंग न्यूज़

श्रीनगर। 

 

अलकायदा यूनिट का प्रमुख आतंकी जाकिर मूसा संभवत: एक बार फिर भारतीय जवानों को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया। सूत्रों के हवाले से पता चला है कि  सुरक्षा बलों को खबर मिली थी वह शुक्रवार शाम त्राल के नूरपुरा स्थित अपने पैतृक घर में छुपा हुआ है।

(आतंकी जाकिर मूसा)

इस सूचना के आधार पर सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मूसा सुरक्षाबलों को चकमा देकर भागने में कामयाब हो गया, हालांकि अधिकारियों ने इस बाबत कोई जानकारी दी है और इलाके में अब भी घेराबंदी जारी है।

 

पत्थरबाजों ने की रोकने की पूरी कोशिश

 

सुरक्षा बलों को नूरपुरा में अलकायदा कमांडर जाकिर मूसा के अलावा तीन और आतंकियों के छुपे होने की सूचना मिली थी। इनमें एक स्थानीय कमांडर सालेह मोहम्मद अखून भी था, जो मूसा को स्थानीय स्तर पर मदद पहुंचाता है।

खुफिया सूत्रों से मिली इस जानकारी के बाद जब सुरक्षा बल वहां पहुंचे, तो स्थानीय लोगों ने सड़कें जाम कर दी और उन पर पत्थर फेंकने लगे। अंदेशा है कि स्थानीय प्रदर्शनकारियों ने आतंकियों को भगाने में मदद के लिए पत्थराव का सहारा लिया और कुछ घंटों बाद पत्थरबाजी रुक गई।

 

खुफिया एजेंसियों का मानना है कि ऐसा इसलिए हुआ होगा कि शायद आतंकवादियों ने पत्थरबाजों को यह संदेश दे दिया होगा कि वे भागने में कामयाब हो गए हैं। सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है कि जब सुरक्षा बलों ने उस इलाके की घेराबंदी की तब मूसा अपने सहयोगी के साथ उस घर में ही मौजूद था।

बता दें कि सुरक्षा बलों ने सूर्यास्त के बाद अपना ऑपरेशन बंद कर दिया। एक अन्य पुलिस सूत्र ने बताया कि सुरक्षा बलों को उस घर में कुल तीन आतंकवादियों के छुपे होने का संदेह था।

हिजबुल मुजाहिद्दीन से अलग होकर बनाया खुदका आतंकी संगठन

 

बुरहान वानी के मारे जाने के बाद मोस्ट वांटेड जाकिर मूसा ने जुलाई 2016 में उसकी जगह ली थी। इसके बाद उसने हिज्बुल मुजाहिद्दीन को छोड़कर अपना अलग आतंकी संगठन बनाया ताकि कश्मीर में खलीफ का गठन किया जा सके। अलकायदा ने जाकिर मूसा को अपना पहला कमांडर नियुक्त किया था।

 

 

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news




sex education news