Home Top News Terrorist Plan To Attack In Delhi On Republic Day

चन्द्र भूषण पालीवाल बने उत्तर प्रदेश अधीनस्थ चयन सेवा आयोग के अध्यक्ष

गोरखपुर: बस और ट्रक की टक्कर, 10 लोग घायल

कानपुर: कोहरे की धुंध की वजह से गंगा बैराज में गिरी कार, 3 लोगों को रेस्क्यू किया गया

शिवपाल यादव अपने जन्मदिन पर आशीर्वाद लेने पहुंचे मुलायम सिंह के घर

फिल्म पद्मावत पर राजस्थान और MP सरकार ने SC में दायर की पुनर्विचार याचिका, कल होगी सुनवाई

दिल्ली में आतंकी हमले की साजिश का हुआ खुलासा!

Home | 08-Jan-2018 10:10:57 | Posted by - Admin
  • अक्षरधाम था लक्ष्‍य
   
Terrorist Plan to Attack in Delhi on Republic Day

दि राइजिंग न्‍यूज

नई दिल्‍ली।

 

रिपब्लिक डे (26 जनवरी) के दौरान दिल्ली में बड़े आतंकी हमले की साजिश रची गई थी। रविवार रात मथुरा के पास भोपाल शताब्दी से एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया गया है। उसकी निशानदेही पर दो लोगों की तलाश में दिल्ली के होटलों में छापेमारी की गई। तफ्तीश में पता चला कि दोनों संदिग्ध एक दिन पहले ही होटल से फरार हो गए हैं।

अब दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल, यूपी एटीएस और आइबी दोनों संदिग्धों की तलाश में जुटी हुई हैं। दो संदिग्धों की दिल्ली में मौजूदगी से सुरक्षा एजेंसियों के होश उड़ गए हैं।

 

 

26 जनवरी के कार्यक्रम और दिल्ली के अक्षरधाम मंदिर पर आतंकी हमला हो सकता है। भोपाल शताब्दी से जा रहे एक शख्स की हरकतें टीटी को संदिग्ध लगीं। टीटी ने फौरन जीआरपी को जानकारी दी। मथुरा के पास जीआरपी ने जब उससे पूछताछ की तो पूछताछ में उसने अपना नाम बिलाल अहमद वानी बताया।

 

अनंतनाग निवासी बिलाल ने बताया कि वो और उसके दोस्त दिल्ली में 26 जनवरी के कार्यक्रम और अक्षरधाम मंदिर पर हमला करने की तैयारी कर रहे हैं। ये सुनते ही जीआरपी को होश उड़ गए। उन्होंने फौरन इसकी जानकारी यूपी एटीएस को दी। यूपी एटीएस ने उससे कड़ाई से पूछताछ की तो वह पागलों जैसी हरकतें करने लगा।

 

 

बिलाल अहमद वाणी ने पुलिस को बताया कि वह और उसके दो साथी दिल्ली के जामा मस्जिद के पास होटल अल राशिद में ठहरे थे। वह खुद होटल से निकल गया और उसके दो साथी अब भी होटल में रुके हुए हैं। यह जानकारी मिलते ही यूपी पुलिस ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और आइबी को इसकी जानकारी दी। 26 जनवरी से पहले दिल्ली में आतंकी हमले की जानकारी मिलने से स्पेशल सेल और आइबी की टीम जामा मस्जिद के जम जम गेस्ट हाउस और होटल अल राशिद पर रेड करने पहुंची।

 

होटल अल रशीद से पता चला कि दो जनवरी को ये लोग यहां आए थे और छह जनवरी को रात 8:30 बजे होटल से निकल गए। जामा मस्जिद के होटल अल रशीद के मैनेजर ने आजतक संवाददाता को बताया कि तीन लोग दो जनवरी को आए। यह लोग दिन में निकल जाते थे और रात को आते थे। कई बार जब रुके रहते थे तो खाना खाने जाते थे। इनसे मिलने होटल में कोई नहीं आया और इनकी गतिविधियां भी सामान्य थीं।

 

 

तीन बैग लाए थे, पर ले गए सिर्फ दो

होटल के मैनेजर ने बताया कि सबसे आश्चर्यजनक बात यह है कि वह तीन बैग लेकर आए थे और जब गए तो इनके पास सिर्फ दो ही बैग थे। उनमें से एक शख्स 6 तारीख की सुबह 11:00 बजे ही चला गया था, जबकि बाकी के दोनों शख्स शाम को करीब 6:00 बजे होटल से गए।

 

 

कमरे की छानबीन और पूछताछ

तीनों संदिग्ध होटल अल रशीद के डबल बेडरूम कमरा नंबर 201 में रुके थे। यूपी एटीएस और दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने होटल कर्मचारियों से भी पूछताछ की और उनके कमरे की तलाशी ली। साथ ही पुलिस अपने साथ होटल में लगे सीसीटीवी फुटेज भी अपने साथ ले गई। होटल अल रसीद में ठहरे तीन में दो संदिग्धों के नाम मुदस्सिर अहमद वागय और मोहम्मद अशरफ है।

इन दोनों संदिग्धों की तलाश में पुलिस ने जामा मस्जिद के ही पास एक होटल जमजम में भी रेड किया। वहां मौजूद अशरफ नाम के दो अलग-अलग लोगों को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गई, लेकिन बाद में उन्हें छोड़ दिया।

 

 

जांच एजेंसियों में खलबली

जांच एजेंसी अब उन दो संदिग्धों की तलाश कर रही है। इन दोनों के होटल से फरार हो जाने से जांच एजेंसियों की नींद उड़ गई है। 26 जनवरी से पहले अक्षरधाम मंदिर पर हमला करने की साजिश की एक कड़ी तो पुलिस के हाथ लग गई है, लेकिन दो अब तक फरार हैं। स्पेशल सेल, यूपी एटीएस समेत आइबी संदिग्धों की तेजी से तलाश कर रही है।

"जो मित्र दि राइजिंग न्यूज की खबर सीधे अपने फोन पर व्हाट्सएप के जरिए पाना चाहते हैं वो हमारे ऑफिशियल व्हाट्सएप नंबर से जुडें  7080355555








TraffBoost.NET

Rising Stroke caricature
The Rising News Public Poll





Flicker News

Most read news

 


Most read news


Most read news